जारी है भारी गोलाबारी, इस बार एकसाथ कई सेक्टर्स पर पाकिस्तान की फायरिंग, 2 और मौतें

CRPF
Janmanchnews.com
Share this news...

जम्मू। पाकिस्तान की आेर से जम्मू क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर बुधवार को भी संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया। कठुआ और आरएसपुरा की बस्तियों और चौकियों पर मोर्टार दागे गए। इसमें दो लोगों की मौत हो गई। 23 लोग जख्मी हुए हैं। बीएसएफ ने इलाके में अब एहतियातन 40 हजार लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया है। बता दें कि पाकिस्तान आरएसपुरा, अरनिया, रामगढ़, सांबा और हीरानगर में आठ दिन से लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। बीएसएफ इसका माकूल जवाब दे रही है।

40 हजार लोगों ने किया पलायन…

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से हो रही फायरिंग की वजह से करीब 40 हजार लोगों ने अपना घर छोड़कर सरकार की ओर से बनाए गए कैम्पों या रिश्तेदारों के घरों पर पनाह ली है। प्रभावित इलाकों में स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

ज्यादातर घरों की देखरेख के लिए एक-एक पुरुष सदस्य ही मौजूद है। पाकिस्तानी फायरिंग में कई पालतू जानवर भी मारे गए हैं। कई घर तबाह हो गए हैं।

पाक रेजर्स मोर्टार-बमों से कर रहे हमला…

पुलिस ऑफिसरों ने न्यूज एजेंसी को बताया, “पाकिस्तानी रेंजर्स मोर्टार (मंगलवार) रात से और बमों से अंधाधुंध फायरिंग कर रहे हैं। ऑटोमेटिक और छोटे हथियारों को भी इस्तेमाल किया जा रहा है।”

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की ओर से बस्तियों पर 80 एमएम से लेकर 120 एमएम तक के मोर्टार दागे जा रहे हैं। मंगलवार दोपहर में ज्यादातर जगहों पर फायरिंग बंद कर दी गई थी, लेकिन सांबा जिले में कुछ स्थानों पर रुक-रुककर फायरिंग होती रही।

इससे पहले मंगलवार सुबह सीमा सुरक्षाबल (बीएसएफ) के एक अफसर ने बताया था कि सोमवार को अखनूर से लेकर सांबा सेक्टर तक रातभर पाकिस्तान ने फायरिंग की।

कई पाकिस्तानी रेंजर्स जख्मी…

पुलिस अफसरों के मुताबिक, बीएसएफ पाकिस्तानी सेना को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। उनके कई बंकर तबाह कर दिए गए हैं। कुछ पाक रेंजर्स गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं।

एक अफसर ने न्यूज एजेंसी से कहा, “पाकिस्तान के जख्मी हुए रेंजर्स में से एक के लाहौर में भर्ती किए जाने की खबर है। दो अन्य का स्थानीय हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।”

पाक ने गोलाबारी रोकने के लिए लगाई थी गुहार…

रविवार को बीएसएफ की कार्रवाई से घबराए पाकिस्तान ने भारतीय सेना ने रहम की गुहार लगाई थी। लेकिन अगले ही दिन फिर गोलाबारी शुरू कर दी थी। मंगलवार को 8 माह की बच्ची की मौत हो गई और एक एसपीओ समेत 6 लोग घायल हुए थे। इससे पहले हुई गोलाबारी में बीएसएफ के 2 जवान शहीद हो गए थे, 4 नागरिकों की भी मौत हुई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान की फायरिंग में पिछले एक हफ्ते में 9 लोगों की मौत हुई है और 50 से ज्यादा जख्मी हुए हैं।

राजनाथ ने बीएसएफ से कहा- उधर से गोली चली तो फैसला आपको करना है…

मंगलवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान की ओर से लगातार जारी फायरिंग की निंदा की थी। बीएसएफ के एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, “कारण समझना कठिन है, यह रिसर्च का विषय हो सकता है कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज क्यों नहीं आता। पहली गोली तो पड़ोसी पर नहीं चलनी चाहिए, लेकिन अगर उधर से चल जाती है तो क्या करें, उसका फैसला आपको करना है।”

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।