जमीन फर्जीवाड़े में केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर प्राथमिकी दर्ज

Giriraj Singh
File Photo: Bharatiya Janata Party Politician Giriraj Singh
Share this news...
Pankaj Pandey
पंकज पाण्डेय

पटना। केन्द्रीय सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम राज्य मंत्री गिरिराज सिंह सहित 33 लोगों के खिलाफ जिला एवं सत्र न्यायालय के निर्देश पर दानापुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है। दर्ज मामले में अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निरोधक अधिनियम की धारा भी जोड़ी गयी है।

आसोपुर निवासी राम नारायण प्रसाद द्वारा दायर परिवाद पत्र पर सुनवाई के बाद पटना अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वितीय सह विशेष न्यायाधीश एससी/एसटी के न्यायालय ने पुलिस को मामला दर्ज कर जांच करने का आदेश दिया था।

परिवाद पत्र में वादी ने सभी आरोपियों पर बिना किसी स्वामित्व के जमीन की खरीद -बिक्री करने और अवैध रूप से जमाबंदी कायम करने का आरोप लगाया था।

इतना ही नहीं शिक्षयतकर्ता ने अपनी याचिका में जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए धमकी देने की भी बात कही थी। वादी ने अपनी याचिका में बताया था कि उन्हें अपने मामा बिपत राम से 2 एकड़ 60 डिसमिल जमीन निबंधित बख्शीशनामा के माध्यम से हासिल हुई थी। जिसके फर्जी तरीके से खरीद बिक्री का खेल आरोपियों द्वारा 1957 से ही किया जा रहा है।

उन्होंने यह भी शिकायत की थी कि जानकारी देने के बावजूद संबंधित सरकारी कर्मचारियों ने कोई कार्रवाई नहीं की। सभी अवैध जमाबंदियों को रद्द करने के लिए अपर समाहर्ता के यहां वाद लंबित होना भी बताया। 

न्यायालय के निर्देश के बाद पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गयी है। आरोपितों के खिलाफ भादवि की धारा 419, 420, 423, 468, 469, 471, 474, और 120 बी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।