Hardik and tejashwi

तेजस्वी व हार्दिक मिलकर तानाशाही को बिहार में जड़ से मिटायेंगे

17

पटना। गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने शनिवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से उनके सरकारी आवास में मुलाकात की। बंद कमरे में करीब सवा घंटे की मुलाकात के बाद दोनों नेता मीडिया के सामने आए और कहा कि दोनों भाई तानाशाही ताकतों से मिलकर लड़ेंगे। दोनों नेताओं की मुलाकात की तस्वीरें तेजस्वी ने ट्विटर पर पोस्ट की है।

तेजस्वी ने कहा कि गुजरात और बिहार का संबंध दोस्ताना रहा है। यह राज्य गांधी की कर्मभूमि रही है। हार्दिक भी गांधी के रास्ते पर चलते हुए गुजरात से बिहार आए हैं। हम दोनों मिलकर देश से दक्षिणपंथी अधिनायकवाद को खत्म करने के लिए संघर्ष करेंगे। हमारा उद्देश्य समतामूलक समाज का निर्माण है। किसानों और युवाओं के हित के लिए हमारा संयुक्त संघर्ष होगा।

विदित हो कि हार्दिक का उभार गुजरात में पटेलों के आरक्षण आंदोलन से हुआ है। उनका बिहार का यह दूसरा दौरा है। पिछली बार जब हार्दिक यहां आए थे उनकी मुलाकात मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी हुई थी। मगर इस बार पटेल शुरू से ही नीतीश पर हमलावर रहे और पटना पहुंचते ही कहा कि नीतीश ने रास्ता बदल लिया है। वह भाजपा के साथ चले गए हैं। अब उनसे मुलाकात और बात का कोई मतलब नहीं।