बिहार युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के प्रत्याशी का संबंध बोधगया बम बलास्ट से

yuva congress logo
janmanchnews.com
Share this news...

पटना। बिहार प्रदेश यूथ कांग्रेस में एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल, बोधगया बम ब्लास्ट का अभियुक्त रहें गुंजन पटेल को युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाया गया है। जिसकों लेकर युवा कांग्रेस दल के अंदर विवाद खड़ा हो गया।

मामले को लेकर युवा कांग्रेस दल के द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर सवाल खड़े किये जा रहें हैं, कि गुंजन पटेल बोधगया बम ब्लास्ट का अभियुक्त है और उसे किस आधार पर प्रदेश अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाया गया। सवाल में यह भी पूछा गया कि आखिर कहां गया राहुल गांधी के द्वारा बनाए वो नियम।

वहीं कांग्रेस के नियमानुसार चुनाव वही उम्मीदवार लड़ सकता है, जो पिछले दो बार से किसी भी कमिटी में निर्वाचित घोषित किया गया हो। इसके आलावा जिसके पास पिछले दो चुनाव का मेंबरशिप बार कोड हो और सदस्यता का पुराना नम्बर हो।

bodhgaya temple file photo
janmanchnews.com (File photo- बोधगया बम ब्लास्ट)

बता दें, गया में हुए बम ब्लास्ट में गुंजन पटेल अभियुक्त पाए गये थे। बम ब्लास्ट मामले 2013 में CCTV फुटेज में देखे गए थे। इससे पहले गुंजन पटेल जदयू के युवा प्रदेश महासचिव रह चुके है है। इसके आलावा गुंजन पटेल कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी के बहुत करीबी भी माने जाते है।

साथ ही युवा दलों ने यह सवाल किया कि आखिर वो कौन पार्टी में दलाल किस्म के लोग हैं, जो राहुल गांधी, के. जे रॉव , ललित मोहन, लींगदोह के आखों मे धूल झोंक कर मोटा पैसा लेकर गुंजन पटेल को युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का प्रत्याशी बना दिया। इसके आलावा EC और PRO पर आरोप लगाते  हुए युवा दल ने गुंजन पटेल के नामांकन रद्द करने हेतु के. जे. रॉव को आवेदन लिखा, साथ ही इस मामले के समक्ष न्याय की उम्मीद लगाई।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।