जगन्नाथपुर अनुमंडल कार्यालय में पदस्थापित प्यून की हुई मौत

jurendra bakira
Janmanchnews.com
Share this news...
Rohit Kumar Mishra
रोहित कुमार मिश्रा

चाईबासा। जगन्नाथपुर अनुमंडल कार्यालय में पदस्थापित प्यून जुरेन्द बंकिरा की किडनी रोग से ग्रस्त से अचानक मौत हो गई। इधर घटना की सूचना मिलते ही शुक्रवार की सुबह जगन्नाथपुर पुलिस घटना स्थल पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले कर मामले की छानबीन में जूट गई है।

इधर घटना के संबध में बताया जा रहा है कि उसे गुरुवार शाम को अपने आवास के बाहर देखा गया था। देर रात में अपने रुम जाने के बाद जब सुबह बंकिरा अपने रूम से बाहर निकलते नही देखा तो बगल के कानु देवगम ने दरवाजा खटखटाया पर अंदर से मृतक बंकिरा ने अंदर से दरवाजा नहीं खोला। जिसपर तुरंत इसकी सूचना कार्मचारियों ने एसडीओ स्मिता कुमारी व दंडाधिकारी सुषमा लकड़ा को दी।

जिस एसडीओ ने जगन्नाथपुर थाना प्रभारी को सुचना दी। थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक, सहायक अवर, निरीक्षक उमेश यादव, प्रशिक्षु अवर निरीक्षक विपिन चंद्र महतो अपने दल बल के साथ एसडीओ आवास पहुंच कर दरवाजाा खटखटाया पर अंदर से नहीं खोलने पर थाना प्रभारी बाहर से किसी तरह दरवाजा खोला गया, देखा कि जुरेंद्र बंकिरा अपने बेड के नीचे बेड में सर देकर बैठे हुए हैं, अवाज देने पर बंकिरा कुछ नही बोल रहा है।

जिस पर दंडधिकारी सुषमा लकड़ा द्वारा अनुमंडल अस्पताल के चिकित्सक डॉक्टर एसके मांझी व आर. शर्मा को आवास बुलाया डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने कहा कि किडनी प्रॉब्लम के चलते उनकी मौत हुई है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में ही कुछ पता चल पाएगा।

वहीं मृतक के बागल रुम में रहने वाले कानु देवगम ने बताया कि उसकी दोनों किड़नी फेल था। हमेसा चिंता में रहता था। सप्ताह में दो दिन हमेशा इलाज हेतु जमशेदपुर अस्पताल  जाते हैं। कानु ने बताया कि दो दिन पहले ही जमशेदपुर से अपना इलाज करा कर आए थे। चक्रधरपुर के रहने वाला है।

करीब 2013 से अनुमंडल कार्यलाय में पियुन का काम कर रहे है। मृतक कई सालों से अपने बेटे के साथ आवास में रह रहे थे। लेकिन कुछ दिन पूर्व बेटा अपना घर चक्रधपुर गया हुआ था। घटना के समय मृतक अकेले था। पुलिस ने मृतक  के परिवार को घटना की सुचना दे दी गई है।

वहीं अनुमंडल पदाधिकारी स्मिता कुमारी ने जुरेंद्र बाकिरा की शव को पोस्टमार्टम अपनी निगरानी में करवाने हेतु में प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी इंद्रदेव कुमार को मजिस्ट्रेट के रूप में प्रतिनियुक्त किया।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।