राफेल सौदे पर पीयूष गोयल ने गिनाये राहुल गांधी के आठ झूठ

piyush Goyal
Janmanchnews.com
Share this news...

नई दिल्ली। इन दिनों विपक्ष मोदी सरकार पर राफेल सौदे को लेकर लगातार हमला बोल रही है। इस मामले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार पर लगातार हमला कर रही है। इसी कड़ी में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भारत और फ्रांस के बीच लड़ाकू विमान राफेल को लेकर हुई डील पर पलटवार करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया।

शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने पत्रकार वार्ता कर जोरदार पलटवार करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने फेक न्यूज के जरिए देश भर में झूठ फैलाने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के झूठ का पर्दाफाश फ्रांस सरकार और राफेल बनाने वाली कंपनी के सीईओ ने कर दिया है।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि राहुल ने अब तक न तो अरुण जेटली, न रविशंकर प्रसाद और न ही निर्मला सीतारमण के आरोपों का जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि इस सरकार और पीएम मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर ध्यान दिया है और राफेल डील देश के हितों को ध्यान में रखकर ही की गई है।

इसके आलावा केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने राहुल गांधी पर राफेल के बारे में देश से निम्नलिखित 8 झूठ बताया-

1. राहुल ने इस सौदे में किसी प्राइवेट कंपनी को शामिल करने के लिए जिस फ्रेंच मीडिया संगठन की झूठी रिपोर्ट का हवाला दिया राफेल बनाने वाली कंपनी के सीईओ ने उस बात को नकार दिया है।

2. राहुल ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का जिक्र किया, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने राफेल की कीमत सार्वजनिक करने से इनकार किया और कहा कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित मामला है।

3. राहुल ने कहा कि इस मामले में एक अफसर का ट्रांसफर किया गया है, उसे हटाया गया है।यह भी झूठ है। उस अफसर को ट्रेनिंग के लिए भेजा गया है।

4. फ्रांस सरकार और एक कंपनी के बीच Quid Pro Quo (किसी अहसान के बदले में फायदा पहुंचाना) की बात भी झूठी है। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने भी इसे नकार दिया।

5. राहुल ने पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति पर मोदी के बारे में अनाप-शनाप शब्द कहने का आरोप लगाया, जो गलत साबित हुआ। देश के विपक्षी नेताओं ने अंतरराष्ट्रीय नेता के बहाने से अपनी बात कही। इससे दोनों देशों के संबंध खराब हो सकते थे। यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि खराब करने वाला कदम था। आगे के दिनों के लिए भी अच्छी परंपरा नहीं है।

6. संसद में राहुल ने कहा कि वह खुद फ्रांसीसी राष्ट्रपति से मिले और पूछा कि क्या दोनों देशों के बीच कोई सीक्रेसी पैक्ट है। उनका यह दावा भी फ्रांसीसी राष्ट्रपति की ओर से ठुकरा दिया गया।

7. कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल की भी कई कीमतें बताईं। वह महज एक एयरक्राफ्ट और एक फुली लोडेड एयरक्राफ्ट की कीमतों की तुलना कर रहे हैं। यह तो आम की गुठली और आम के पूरे बाग की तुलना करने जैसा है।

8. राहुल का आठवां झूठ था कि कैबिनेट कमिटी ऑफ सिक्योरिटी को इस डील की जानकारी नहीं थी। ऐसा न कभी हुआ है और  हो सकता है। सरकारें हमेशा सारी प्रक्रियाओं को ध्यान में रखकर ही कोई डील करती हैं।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।