पीएनबी घोटाला: रांची, धनबाद, बोकारो में गीतांजलि से जुड़े ज्वेलरी स्टोर में ऐसे चली 13 घंटे पड़ताल

पंजाब
Punjab National Bank...
Share this news...
Rohit Kumar Mishra
रोहित कुमार मिश्रा

रांची: पंजाब नेशनल बैंक के 11, 400 करोड़ रुपये के घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी और उसके मामा गीतांजलि ज्वेलरी के मालिक मेहुल चोकसी से जुड़े ठिकानों पर पूरे देश में  विभिन्न जांच एजेंसियों की टीम छापेमारी कर रही है।

इसी क्रम में शनिवार दिन के 11 बजे से रात 12 बजे तक प्रवर्तन निदेशालय ने झारखंड के प्रमुख शहरों रांची, धनबाद, बोकारो में गीतांजलि ज्वेलरी की फ्रेंचाइजी वाले स्टोर पर पड़ताल की। राज्य में पदस्थापित इडी के अफसरों ने यह कार्रवाई अपने ऊपर के अधिकारियों के आदेश पर की।

सूत्रों के अनुसार, झारखंड में इडी की टीम अपने ऊपर के अफसरों के निर्देश पर सुबह साढ़े पांच बजे ही अभियान के लिए निकल गयी। दो अधिकारियों को रांची में कार्रवाई को कहा गया, जबकि अन्य अधिकारियों को बोकारो व धनबाद रवाना किया गया।

झारखंड के कुल पांच ज्वेलरी शॉप पर जांच की गयी. रांची में मेन रोड स्थित नक्षत्र ज्वेलर्स में टीम ने पड़ताल शुरू की, लेकिन स्टोर वालों ने बताया कि उनका गीतांजलि से कारोबारी करार खत्म हो गया है। इसके बाद यहां पड़ताल बंद कर दी गयी. बोकारो में हर्षवर्द्धन प्लाजा स्थित निशा अग्रवाल की ज्वेलरी शॉप व धनबाद में बैंक मोड़ स्थित श्रीराम ज्वेलर्स में पड़ताल बंद कर दी गयी। वहीं, धनबाद के सिटी सेंटर स्थित राणी सती ज्वेलर्स में इडी की छापेमारी की गयी. इनका करार गीतांजलि के साथ अभी भी है।

सूत्रों के अनुसार, अभियान मोटे तौर पर रात आठ बजे पूरा हाे गया। फिर उसके मूल्यांकन करने वाली सरकारी टीम को बुलाया गया, जिसने जब्त ज्वेलरी का मूल्यांकन 36 लाख रुपये किया. इडी की टीम देर रात रांची लौटी है।

उल्लेखनीय है कि आज रविवार को भी देश के पांच राज्य में 26 जगह पर नीरव मोदी व मेहुल चोकसी के ठिकानों पर जांच एजेंसियां कार्रवाई कर रही है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।