Suicide

रीवा के लाल युवा IES ने राजधानी में की आत्महत्या

289
ईशू केशरवानी

ईशू केशरवानी

रीवा। रीवा के धरती का लाल जिसने अपने परिश्रम के बदौलत भारतीय इंजीनियरिंग सेवा में जाने का अवसर प्राप्त कर सबको गौरवान्वित किया, परन्तु यह खुशी एक झटके में चूर चूर हो गई।

दरअसल, रीवा सिविल लाइंस थाना अंतर्गत जयंती कुंज के समीप रहने वाले प्रोफेसर ऋषि तिवारी के पुत्र प्रवीण तिवारी IES का शव फांसी के फंदे में झूलता हुआ मिला।

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में देश के लिए कुछ कर गुजरने कि चाहत रखने वाले होनहार युवा प्रवण तिवारी ने सबको चौंका दिया है। इसी माह में प्रवीण ने देश की राजधानी दिल्ली में IES में अपनी सेवा शुरू की थी और कुछ दिनों बाद प्रवण तिवारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

इस घटना कि जानकारी मिलते ही परिजनों के होश उड़ गए हैं। प्रवीण तिवारी का चयन IES में हुआ था। बताया जा रहा है कि प्रवीण ने ट्रेनिंग पूना में पूरी कर 1 सप्ताह पहले उसकी ज्वाइनिंग वाटर रिसोर्स दिल्ली में हुई थी। प्रवीण ने अपने साथियों के साथ दिल्ली बसंत बिहार कुंज में रहता था। जहां पर किन्हीं अज्ञात  कारणों से उसने आत्महत्या कर ली है पुलिस मामले की जांच में जुट गई हैं।

आज होगा अंतिम संस्कार:-

दिल्ली पुलिस द्वारा रविवार को प्रवीण के शव को पोस्टमार्टम करके शव को परिजनों को सौंपा दिया गया है। जानकारी के अनुसार प्रवीण का अंतिम संस्कार गृह ग्राम रूपौली में किया जाएगा

प्रवीण को नौकरी के मिले थे तीन ऑफर:- 

होनहार युवा प्रवीण तिवारी को तीन जगह से नौकरी के अवसर प्राप्त हुए थे। लेकिन उसका सपना था कि वहां भारतीय इंजीनियरिंग सेवा में जाकर देश के लिए कुछ ऐसा करें। जिससे देश का नाम हो  वहां अपने लक्ष्य को निर्धारित कर तैयारी में जुटा रहा और अंत में परीक्षा में सफल रहा। लेकिन ना जाने ऐसी क्या स्थिति निर्मित हुई कि उसने आत्महत्या कर ली।