अमृतसर रेल हादसा: घायलों का इलाज कराएगी पंजाब सरकार

amritsar accident
Janmanchnews.com
Share this news...
Navdeep Kapoor
नवदीप कपूर

अमृतसर। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है। अमरिंदर सिंह ने मृतकों और घायलों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। इसके अलावा घायलों के इलाज का खर्च भी पंजाब सरकार उठाएगी।

CM अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर लिखा “अमृतसर में दशहरा पर हुए हादसे के राहत-बचाव कार्य की निगरानी व्यक्तिगत तौर पर कर रहा हूं। अधिकारियों को युद्ध स्तर पर काम करने के लिए कहा गया है।’   

नॉर्थन रेलवे ने घायलों और मृतकों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए हैं। यहां पर जानिए सभी हेल्पलाइन नंबर…

अमृतसर रेल हादसे के बाद नॉर्थन रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए हैं। अभी तक इस हादसे में 50 लोगों की मौत हो चुकी हैं। वहीं 30 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। इसके बाद पंजाब सरकार ने घायलों और मृतकों को 5 लाख रुपए देने की घोषणा की है।   

हादसे में घायल और मृतकों की जानकारी के लिए  01832223171, 01832564485 पर संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा मानावाला रेलवे स्टेशन के नंबर 7332 पर संपर्क किया जा सकता है। Bsnl के उपभोक्ता मानावाला रेलवे स्टेशन की हेल्पलाइन नंबर  0183-2440024 पर संपर्क कर सकते हैं।

अमृतसर रेलवे स्टेशन के पावर कैबिन का हेल्पलाइन नंबर 72820 है। वहीं  Bsnl के उपभोक्ता के लिए अमृतसर रेलवे स्टेशन के पावर कैबिन की हेल्पलाइन नंबर 183-2402927 है। कॉमर्शियल कंट्रोल रूम का हेल्पलाइन नंबर- 01632-1072 इसके अलावा स्टेशन गेट पर नंबर-  9779232880, 9779232558, 7986897301 भी है।

मुफ्त में होगा घायलों का इलाज 

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों और घायलों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। इसके अलावा घायलों के इलाज का खर्च भी पंजाब सरकार उठाएगी। इसके अलावा पंजाब सीएम ने अपनी इजरायल की यात्रा कैंसिल कर दी है।

captain amrender singh
Janmanchnews.com

घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए आर्मी मेडिकल हॉस्पिटल से गुरू नान देव हॉस्पिटल के लिए एंबुलेंस भेज दी है। इसके अलावा दो मेडिकल ऑफिसर और उनकी टीम को भी भेज दिया गया है।

नवजोत सिंह सिद्धू की वाइफ पर आरोप 

रेल हादसे के चश्मीदीदों के मुताबिक पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की वाइफ नवजोत कौर सिद्धू विजयदशमी कार्यक्रम की चीफ गेस्ट थीं। चश्मदीदों के मुताबिक चीफ गेस्ट थीं और हादसे के बाद वह तुरंत कार से निकल गई।

नवजोत कौर ने अपनी सफाई में कहा है कि रावण का पुतला जल गया था और मैं वहां से निकल चुकी थी। प्राथमिकता घायलों को इलाज देने की होनी चाहिए। वहां हर साल दशहरे का आयोजन होता है। जो लोग इस पर राजनीति कर रहे हैं उन्हें शर्म आनी चाहिए।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।