Aanandpal gang

आनंदपाल एनकाउंटर को लेकर सरकार से वार्ता, बेटी चिनु पर कार्यवाही नहीं करने सहित चार मांगों पर सहमत

22

पत्रकार रमेशपुरी गोस्वामी,

राजस्थान/जयपुर। आनंदपाल के शव को लेकर अभी तक कोई निर्णय नहीं हो पाया है। वहीं शुक्रवार को सरकार एवं राजपूत समाज के प्रतिनिधियों के बीच गृहमंत्री के आवास पर बैठक आयोजित की गई।

जिसमें सीबीआई मामले की जांच को लेकर बात फिर अटक गई। बैठक में शामिल संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा कि सरकार चार मांगो पर सहमत हुई है। इनमें आनंदपाल के भाई मंजीत को जमानत दिलाने। बेटी चिनु पर पुलिस कार्यवाही नहीं करने। प्रदर्शनकारी युवकों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लेने तथा जब्त प्रोपर्टी कानूनी प्रक्रिया के तहत वापस लौटाने की मांग है।

वहीं सीबीआई जांच के मुद्दों पर सरकार तैयार नहीं हुई। इस पर प्रतिनिधियों ने कहा कि आनंदपाल के परिवार से बात करके बताएंगे। वहीं सरकार ने इस मामले में एसआईटी गठित करने का प्रस्ताव राजपूत समाज के समक्ष रखा।

गृहमंत्री के आवास पर इनके मध्यस्थ हुई वार्ता…

गृहमंत्री के आवास पर हुई बैठक के दौरान पंचायत राज मंत्री राजैन्द्र राठौड, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी, राजपूत समाज सभा के अध्यक्ष गीरीराज सिंह लोटवाड़ा, महिपाल सिंह मकराना, करणी सेना के प्रवक्ता करण राठौड़, रावणा राजपूत समाज सभा अध्यक्ष रणजीत सिंह सोढाला सहित मोजूद थें। वहीं गृहमंत्री के अस्वस्थ होने के कारण वार्ता में शामिल नहीं हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।