शिक्षक संघ राष्ट्रीय द्वारा सातवें वेतन आयोग की विसंगतियों को लेकर धरना प्रदर्शन

Share this news...
Omprakash Varma
ओमप्रकाश वर्मा

धौलपुर। राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय की जिला कार्यकारिणी द्वारा सातवें वेतन आयोग की विसंगतियों को दूर कर केंद्र के समान 1 जनवरी 2016 से लागू करने हेतु धरना प्रदर्शन किया ।

धरने में मुख्य अतिथि के रुप मे प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश शर्मा, अध्यक्ष देवेश प्रसाद शर्मा व जिला मंत्री गोविंद शर्मा मुख्य वक्ता रहे। धरने में निम्नलिखित बिंदुओ को प्रमुख रूप से रखा गया

1 सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों राज्य में भी केन्द्र के अनुरूप समस्त परिलाभों सहित 1 जनवरी 2016 से लागू कर एरियर का एकमुश्त नगद भुगतान किया जाये

2 शिक्षकों के सभी संवर्गो का वेतनमान केंद्र के शिक्षकों के समकक्ष निर्धारित कर सातवें वेतन आयोग में फिक्सेशन किया जाये

3 अनुसूची 5  के अंतर्गत की गई मूल कटौती को तत्काल निरस्त कर व्याख्याता संवर्ग के साथ हुए अन्याय से राहत प्रदान की जाये

4 नवीन पेंशन को समाप्त कर पुरानी पेंशन लागू किया जाये

पीपीपी मोड को तत्काल समाप्त किया जाये

मुख्य अतिथि राजेश शर्मा ने सातवें वेतन आयोग की समस्त सिफारिश को एकरूपता के साथ राज्य में अपनाने पर अपने विचार रखे, अध्यक्ष देवेश शर्मा ने सभी संवर्गो में वेतन की सिफारिशों लागू करने व केंद्र के समान देने की बात कहीं। गोविंद शर्मा ने अनुसूची 5 को समाप्त करने व व्याख्याताओ के साथ हो रहे अन्याय को समाप्त करने पर अपने विचार रखे, जिला प्रवक्ता विशाल गुप्ता ने नई पेंशन को समाप्त कर पुरानी पेंशन लागू करने व पीपीपी मोड़ को समाप्त करने की बात कही।

इस अवसर पर हरिओम सिकरवार, विशंभर शर्मा, मुरारी लाल, महेश परमार, पुरुषोत्तम रावत, नीरज शर्मा, अर्जुन त्यागी, अवदेश शर्मा श्रीप्रकाश शर्मा, मांगी लाल, देवेन्द्र शर्मा, बिजेन्द्र किरार, मोहन प्रकाश शर्मा, अजय शर्मा अजय मुदगल लोकेन्द्र श्रोती, हरेन्द्र सिकरवार, बहादुर सिंह परमार, रतिराम शर्मा आदि उपस्थित थें।

Share this news...