protest

मध्यप्रदेश शासन पर साधा निशाना….कहां कुंभकर्णी सरकार अब तो जाग जाओ

54
Ashok Parmar

अशोक परमार

रतलाम। रतलाम में प्रदेश सरकर की संविदा नीतियों के विरोध में संविदा संयुक्त मोर्चा का धरना प्रदर्शन लगातार जारी है। चाहे दिनों के रूप में हो या विरोध प्रदर्शन करने के अंदाज में। प्रदर्शनकारी अपनी आवाज को सरकार तक पहुंचाने के लिए दिन प्रतिदिन नित नए अंदाज में अपनी भूमिका निभा रहे हैं।

उन्हें लगता है कि सरकार उनकी मांगों के प्रति संजीदा नहीं है। अपनी मांगों के प्रति सरकार की उदासीनता से त्रस्त होकर सरकार को जागृत करने हेतु पौराणिक रामायण पात्र कुंभकरण का प्रतीकात्मक एवं सांकेतिक स्वरूप में सजीव पात्र की भूमिका अदा की।

उसकी निद्रावस्था के सम्मुख ढोल ताशे एवं भोपू बजा कर जगाने का भागीरथी प्रयास किया। इस अनोखे प्रदर्शन के साथ जमकर नारेबाजी भी की गई। उनका मानना है कि हमारी मांगों के प्रति सरकारी रवैया नकारात्मक एवं उदासीन होकर कुंभकर्णी नींद ले चुका है।

गौरतलब है कि प्रदेश भर में संविदा कर्मियों के विभिन्न मोर्चों के तत्वाधान में जो हड़ताल जारी है उसे 1 माह से अधिक समय हो चुका है। जिसके कारण शासन के विभिन्न विभागों का कामकाज प्रभावित हुआ है।