ratlam police

रतलाम पुलिस को मिली बड़ी सफलता 6 वर्षीय बालिका की हत्या करने वाला आरोपी 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार

56
Ashok Parmar

अशोक परमार

रतलाम। पुलिस अधीक्षक अमित सिंह द्वारा बताया गया कि दिनांक 23 अप्रैल 2018 को थाना पिपलोदा में अज्ञात व्यक्ति द्वारा सूचना दी गई ग्राम कुशलगढ़ में वारिस खान की बच्ची उम्र 6 वर्ष की मृत्यु हो गई है। उसका पिता अंतिम संस्कार के लिए मेवाती पुरा जावरा ले गए हैं।

पुलिस अधीक्षक द्वारा दी गई सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते पुलिस द्वारा मेवाती पुरा जावरा में वारिस खां के बारे में जानकारी जुटाई। ससुराल जहूर खान के घर पहुंचे जहां पर काफी भीड़ भाड़ लगी हुई थी। मृतिका का जनाजा ले जाने की तैयारी में थे मृतका के शव का अवलोकन करने पर चोट के निशान पाए जाने से शव को शासकीय अस्पताल जावरा ले जा कर डॉक्टर टीम द्वारा शव का परीक्षण कराया जो प्रथम दृष्टया मृत्यु प्रतीत होने से पीएम कराया गया।

डॉ. टीम द्वारा मृतिका की मृत्यु गला घुटने से दम घुटने से होना बताया घटना की गंभीरता को देखते हुए रतलाम पुलिस अधीक्षक अमित सिंह के मार्गदर्शन व एडिशनल SP राजेश सहाय के नेतृत्व में डीआर माले एसडीओपी जावरा थाना प्रभारी पिपलोदा अमित तोलानी वह पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों की टीम गठित की गई।

गठित टीम द्वारा मामले को गंभीरता को देखते हुए संकलित सूचनाओं के आधार पर आज दिनांक को वारिस खां पिता नाहर खां उम्र 42 साल निवासी मेवाती मोहल्ला कुशलगढ थाना पिपलोदा से सख्ती से पूछताछ करने पर अपना जुर्म करना स्वीकार किया आरोपी की गिरफ्तारी कर ली गई है शेष पूछताछ जारी है।

घटना का विवरण इस प्रकार है…

मां शर्मा का पहले पति की मृत्यु उपरांत वारिस खां  से करीबन 8 से 9 माह पूर्व शादी हुई थी सलमा बी के 3 लड़के एक लड़की है वारिस खान से शादी के बाद मृतिका अपनी मां सलमा व सौतेले पिता वारिस खान के साथ कुशलगढ़ में रहती तथा शेष 3 बच्चे अपने दादा दादी के साथ मंदसौर रहने लगे वारिस खान की भी तीसरी शादी सलमा बी के साथ हुई वारिस खान की पहली पत्नी सलमा बी से शादी के बाद वारिस खान मृतिका के साथ मारपीट करता था तथा 15 दिनों से बुरी नियत से देखने लगा इसी दौरान दिनांक 22 अप्रैल 2018 को बारिश खान ने अपनी पत्नी सलमा बी को अलग कमरे में बंद कर दिया तथा दूसरे कमरे में मृतिका को बुरी तरीके से मारा पीटा दिनांक 23 अप्रैल 2018 को सलमा बी जब घर पर खाना बना रही थी तब वारिस खान ने मृतिका के साथ मारपीट की वह गला दबाया बच्ची की रोने की आवाज सुनकर सलमा बी दौड़ कर आई तब तक मृतिका मरणासन्न अवस्था में हो गई थी तब शर्मा वह बारिश कहां बच्ची को लेकर हसन पालिया में डॉक्टर को दिखाया जहां मृत होना बताया वारिस खान ने अपने ससुराल व अन्य परिजनों को बच्चे की मौत तेज बुखार होने की वजह बताएं वह साक्ष्य को छुपाने के लिए मेवाती पुरा जावरा अंतिम संस्कार के लिए लाया गया।

इनकी रही सराहनीय भूमिका…

उपरोक्त घटना का पर्दाफाश करने के लिए रतलाम एडिशनल SP राजेश सहाय थाना प्रभारी पिपलोदा अमित तोलानी f s l अधिकारी अतुल मित्तल थाना प्रभारी जावरा शहर श्याम चंद शर्मा सब इंस्पेक्टर सीमा मिमरोट थाना जावरा बाहर सब इंस्पेक्टर डीके दुबे थाना औद्योगिक क्षेत्र जावरा सब इंस्पेक्टर बीएस कुशवाहा प्रधान आरक्षक सीताराम आरक्षक मोहन लाल आरक्षक प्रेम सिंह मुनिया आरक्षक अवधेश आरक्षक गजेंद्र सिंह आरक्षक जयंतीलाल पाटीदार की रही महत्वपूर्ण भूमिका।