आधी रात के बाद धमाके से थर्राया काशी का भदंऊ क्षेत्र, सिवईं बनाने के कारखाने में लगी भीषण आग

सिवईं
Major fire broke out in a Siwain factory in Siwain Mandi of Bhadaun area...
Share this news...

घनी आबादी के बीच चलाई जा रही फैक्ट्री में था ज्वलनशील पदार्थो का जखीरा, नहीं था तो बस फायर एक्सटिंग्गयुशर…

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 

वाराणसी: आदमपुर थानाक्षेत्र के भदंऊ क्षेत्र की एक सेवईं बनाने के कारखाने में सोमवार की देर रात तकरीबन 12 बजे सेवईं बनाते समय भीषण आग लग गई। मकान से धुंआ निकलता देख आस पास के लोगों ने मकान मालिक गिरधर मौर्या को सूचित किया। मकान के अंदर मैदा, घी, गैस सिलेंडर सहित अन्य ज्वलनशील पदार्थ होने के कारण देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। मिली जानकारी के अनुसार कारखाने में अग्नि शमन संयंत्र नहीं होने की जानकारी मिली है।

इस दौरान घर के अंदर सेवईं और फेनी बना रहे 10 कारीगर मकान के ऊपरी तल पर फंस गए। इलाकाई लोगों ने किसी तरह से उन्हें बाहर निकाला। आग लगने की वजह से फेनी छानने के लिए रखे गये दो दर्जन से अधिक बड़े गैस सिलेंडरों में से एक सिलेंडर तेज अवाज के साथ फट गया, जबकि बाकी के सिलेंडरों को समय रहते पड़ोसियों ने बाहर निकाल लिया था।

गिरधर मौर्या का मकान संकरी गली में होने के कारण मौके पर पहुंचे दमकल विभाग के जवानों को आग बुझाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

आस पास के लोगों ने बताया कि मकान में मानकों को ताख़ पर रखकर बड़े गैस सिलेंडर, मैदा, घी सहित अन्य ज्वलनशील पदार्थों का भंडारण किया गया था। जिसके कारण देखते ही देखते आग ने विकराल रुप ले लिया। आग लगने के दौरान मकान में 10 मजदूर काम कर रहे थे जिसमें एक मजदूर घर के अंदर सोया था। आसपास के लोगों ने सभी मजदूरों को हिम्मत और साहस का परिचय देते हुए बाहर तो निकाल लिया लेकिन देर रात तक कानपुर निवासी एक मजदूर लापता था। सेवईं मंडी में संकरी गली में स्थित गिरधर मौर्या के साढ़े चार विस्वा के तीन मंजिला मकान में आग लगने के कारण घर में रखे घी, मैदा, फेनी सहित घर का सारा सामान जल कर राख हो गया। देर रात तक नुकसान का मिलान किया जा रहा था। अनुमान है कि 20 से 25 लाख के करीब का माल जलकर राख हो गया।

सूचना देने के तकरीबन 1 घंटे के बाद फायर ब्रिगेड की एक छोटी गाड़ी मौके पर पहुंची। जिसने कुछ ही देर बाद विकराल आग के आगे घुटने टेक दिए। इस पत्रकार ने आदमपुर इंस्पेक्टर राजीव सिंह को घटना की जानकारी दी जिन्होंने मौके पर पहुंचकर फायर ब्रिगेड को फ़ोन करके और 5 और दमकलों को बुलवाया।

मौके पर दमकल की 6 गाड़ियां आग बुझाने में खाली हो गईं। इलाकाई लोगों ने घर के समरसेबल और पानी की टंकी से दमकल की गाड़ियों में देर रात लगभग 2:30 बजे पानी भरना शुरू किया। दमकल की गाड़ियों में भरा पानी खत्म होने के बाद भी मकान के अंदर आग धधक कर रही थी। आग पर काबू पाने में दमकल कर्मियों को 5 घंटे मशक्कत करनी पड़ी। आग की विकरालता को देखते हुए इलाके की विद्युत आपूर्ति रोक दी गई। तीन मंजिला मकान में आग लगने से सेवई मंडी इलाके में अफरा-तफरी का माहौल बन गया था। सभी लोग अपने घरों के बाहर निकल आए थे।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।