कुपोषण से मुक्त होने के लिए सोयाबीन का व्यंजन एक अच्छा विकल्प

Soyabin
Janmanchnews.com
Share this news...
Anil Upadhyay
अनिल उपाध्याय

देवास। सोयाबीन के विभिन्न उपयोगी उत्पाद जेसे सोया मिल्क, सोया पनीर, पनीर पराठा, पनीर पकोड़ा, मिल रोटी, सोया बड़ी, जेसे विभिन्न पोस्टिंग व्यंजन कुपोषण को दूर करने में मददगार साबित हुए हैं।

यह बात बुधवार को महिला बाल विकास परियोजना विभाग खातेगांव के अंतर्गत आने वाले आदर्श ग्राम अजनास में एक दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान उपस्थित कार्यकर्ता सहायिका एवं महिलाओं से सोयाबीन के व्यंजनों से कुपोषण दूर करने में महत्वपूर्ण उपयोग व महात्व के बारे में पर्यवेक्षक जागृति वर्मा एव प्राची अलावे ने कही आपने यह भी बताया की कम वजन वाले बच्चों के लिए  यह रामबाण से कम नहीं है।

सोयाबीन बड़ा ही उपयोगी है। बच्चों के पुरे विकास में खासकर हड्डियों की मजबूती और निरोगी काया के लिए सोयाबीन सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, इसका उपयोग खासकर बच्चों के विकास एवं उनके कुपोषण दूर करने के लिए अत्यंत उपयोगी साबित हो रहा है। आपने साथ ही महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बच्चों एवं महिलाओं के लिए चलाई जा रही।

अनेक जनकल्याणकारी योजना के बारे में भी विस्तार से बताया जिला कार्यक्रम अधिकारी के निर्देशानुसार परियोजना अधिकारी रामप्रवेश तिवारी के मार्गदर्शन में इन दिनों आगनवाड़ी केन्द्रों पर स्मार्ट विलेज सोयाबीन से बनने वाले व्यंजनों के बारे में आंगनवाड़ी पर्यवेक्षको द्वारा कार्यकर्ताओं साहिकाओं एवं महिलाओं को विस्तार से जानकारी के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। आयोजित कार्यक्रम में आदर्श ग्राम अजनास की कई महिलाओं के साथ कार्यकर्ता एवं सहायिका भी उपस्थित थी।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।