अखिलेश यादव

लोकसभा चुनाव को लेकर अखिलेश का बड़ा ऐलान, बसपा के खेमे ख़ुशी की लहर

3

सपा-बसपा गठबंधन में सीटों को लेकर होने वाले बवाल को खत्म करते हुये अखिलेश नें बसपा को अतिरिक्त सीटें भी देने की बात कह डाली…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 

लखनऊ: यूपी में सपा-बसपा गठबंधन को लोकसभा चुनाव में और भी ज्यादा मजबूती मिलने वाली है। इस गठबंधन को तोड़ने के लिए जहां बीजेपी भरसक तैयार प्रयास में लगी हुई है। वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस गठबंधन को और भी मजबूत करने के लिए बड़ा बयान दिया है।

अखिलेश ने साफ़ तौर पर कह दिया है कि अगर उन्हें बसपा को अतिरिक्त सीट देनी पड़ी तो वह उसके लिए भी तैयार हैं। बता दें कि इससे पहले सपा-बसपा में सीट बंटवारे को लेकर उठापटक होने की बात कही जा रही थी लेकिन अखिलेश के इस बयान से सब बातें साफ़ हो गयी हैं।

लोकसभा चुनाव को लेकर अखिलेश यादव का बयान

अखिलेश यादव का ये बयान ऐसे समय में आया है। जब ममता बनर्जी तीसरे मोर्चे की तैयारी में जुटी हुई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ममता दिल्ली यात्रा के दौरान विपक्षी दलों के रुख से काफी उत्साहित हैं। बता दें कि लोकसभा की 80 सीटों के कारण भारत की चुनावी राजनीति में उत्तर प्रदेश का महत्व काफी ज्यादा है। वर्ष 2014 के लोकसभा और विधानसभा चुनावों में देश के सबसे बड़े राज्य में बीजेपी को जबरदस्त सफलता मिली थी।

अखिलेश ने कहा कि मेरे शब्दों को जेहन में डाल लीजिए… यह गठजोड़ (सपा-बसपा) बीजेपी को न केवल उत्तर प्रदेश से बल्कि राष्ट्रीय राजनीति से भी बाहर कर देगा।’ दरअसल, सपा और बसपा गठजोड़ के लंबे समय तक जारी रहने को लेकर तरह-तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं। दोनों दलों के बीच हुए समझौते को संदेह की नजर से भी देखा जा रहा है। अखिलेश यादव के बयान को इस तरह की अटकलबाजी को खत्म करने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है।

सपा प्रमुख ने कहा, ‘यह पार्टी से जुड़ा सवाल नहीं है। यह देश को बचाने का सवाल है। हमलोग ऐसी पार्टी के खिलाफ संघर्ष में हैं जो धर्म और जाति के नाम पर बांट रही है। वे सबका साथ, सबका विकास की बात करती है, लेकिन ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाया जाता है जो खुलेआम दावा करता है कि वह ईद नहीं मनाता है। वह संविधान नहीं बल्कि ईश्वर के नाम पर शपथ लेते हैं।