सत्ता परिवर्तन होते ही MP में खुला बड़े घोटाले का राज, युवाओं के खाते से गायब हुई इतने रुपये

48

शहडोल। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में एक बड़ी घोटाले की खबर सामने आई है। दरअसल, मिली जानकारी के मुताबिक उमरिया जिले के नौरोजाबाद थाना छेत्र के पिनौरा उसके आस पास के 100 से 150 युवाओं को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत परीक्षा में शामिल होने के बाद उनके खाते में आई 10-10 हजार रुपये की राशि कौशल विकास केंद्र के करता-धर्ताओं और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा शहडोल के प्रबंधक ने बिना किसी जानकारी दिए हस्ताक्षर कराया और दुसरे खातों में ट्रान्सफर कर दी।

आपको बताते चले लगभग 20 से 25 लाख रुपये का घोटाला सिर्फ पिनौरा क्षेत्र से करने की जानकारी सामने आ रही है। बीते कुछ महीनों से युवा अपने न्याय को लेकर फिरोजाबाद से उमरिया के चक्कर लगा रहे है। मगर न्याय नहीं मिल पा रहा है।

इसी मामले को लेकर बीते बुधवार को युवाओं ने संभागीय मुख्यालय पहुंचकर प्रशासनिक अधिकारीयों को शिकायत देते हुए कौशल विकास केंद्र के कर्मचारियों और बैंक प्रबंधक और उसमें शामिल अधिकारी पर कार्रवाई की मांग की है।

वहीं शिकायत देने संभागायुक्त कार्यालय पहुंचे युवाओं ने आरोप लगाया कि पिनौरा में उनसे परीक्षा हंसराज द्विवेदी ने दिलवाई थी और परीक्षा केंद्र विन्द्या कॉलोनी महुरा था। जिसमें परीक्षा दिलाने वाले का नाम मृणाल मंडल था और हंसराज के साथ मिलकर खाते सेंट्रल बैंक की शहडोल शाखा में खुलवाया।

Letter

युवाओं द्वारा दी गयी लिखित आवेदन….

जबकि उसके पहले से ही पिनौरा में इसी बैंक में खाते थे, कई के खाते में शहडोल ट्रान्सफर करा दिए गये। राशि निकालने के बाद खातों को बंद करा दिया गया, ताकि घोटाला सामने ना आ सके।

बता दें, कौशल विकास केंद्र का कार्यालय शहडोल में ही स्थित है। साथ ही युवाओं ने यह भी आरोप लगाया है कि उनके खाते से राशी सौरव, गौरव, सोडी जो कि कंपनी के MD है, जो जबलपुर और कटनी में रहते है। उनके खाते में यह राशी ट्रान्सफर की गयी है।

इसके आलावा युवाओं ने यह भी बताया कि कौशल विकास के नाम पर कई और युवाओं के दोखाधारी की गयी है। मगर वह सामने नहीं आ रहे है, उने डर है कि इसका विरोध किया तो उन्हें अपनी जान भी गंवानी पड़ सकती है।