ममता के किले को ढहाने के लिए भाजपा ने तैयार किया यह मास्टर प्लान

BJP
Janmanchnews.com
Share this news...

नई दिल्ली। 2019 के आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा अपनी पूरी तैयारी में लगी है। इसी कड़ी में भाजपा ने पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के किले को ढहाकर कमल खिलाने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया है। राज्य में मोदी के पक्ष में माहौल बनाने के लिए पार्टी तीन रथ यात्राएं निकाल कर हुंकार भरेगी।

मिली जानकारी के अनुसार इस रथ यात्रा का नेतृत्व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ और असम के CM सर्बानंद सोनोवाल करेंगे।

दरअसल, बीते पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव को लेकर माहौल बनाने का अभियान शुरू करने जा रही है। इसके लिए बीजेपी ने अपने प्रमुख चेहरों को बंगाल की जमीन पर उतारने की योजना बनाई है।

वहीं इस मामले को लेकर पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि राज्य में रथ यात्राएं निकालने का विचार किया गया है। ये रथ यात्रा दिसंबर में निकेलगी, मगर जानकारी के मुताबिक इस अभियान का प्रचार दुर्गा पूजा के बाद से ही शुरू हो जाएगा।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में तीन रथ यात्राओं को निकालने की बात हुई है। इसमें पहली रथयात्रा बीरभूमि जिले के मंदिर शहर तारापीठ से तीन दिसंबर को शुरू हो सकती है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का इस यात्रा में शामिल होने संभावना है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि दूसरी यात्रा का नेतृत्व CM के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा किया जाएगा। माना जा रहा है कि इस यात्रा की शुरुआत गंगा सागर से की जाएगी। इस रथ यात्रा के दौरान टीएमसी सरकार के तुष्टीकरण नीतियों का विरोध किया जाएगा। जनता के बीच मोदी सकरार की उपलब्धियों को पार्टी बताएगी।

वहीं भाजपा की तीसरी यात्रा का नेतृत्व असम के CM सोनेवाल के द्वारा किया जाएगा। इसके यात्रा का मकसद पश्चिम बंगाल में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों का विरोध करना होगा। ये यात्रा कूच बिहार जिले से निकाली जाएगी।

इसके आलावा दिलीप घोष ने बताया कि तीनों यात्रा प्रदेश के सभी विधानसभा और 42 लोकसभा क्षेत्रों से होकर जाएगी। साथ ही भाजपा शासित राज्यों के CM और पार्टी के वरिष्ठ नेता शामिल होंगे। बंगाल में निकलने वाली प्रत्येक रथ यात्रा 14 लोकसभा सीटों को कवर करेगी।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।