अमरीका ने आईएस की सुरंग पर गिराया 10 हजार किलो का बम, 36 अातंकी साफ

Afghanistan
Map
Share this news...

इस अमरीकी कार्यवाई से क्या आंतकवाद की फैक्ट्री बन चुका पाकिस्तान कुछ सबक लेगा? या भारत को भी कुछ ऐसी ही कार्यवाई उस देश के खिलाफ नही करनी चाहिए जो दशकों से हमारी कश्मीर में कत्लेआम मचाये है?

शबाब ख़ान,

नई दिल्ली। भारतीय समय के अनुसार 13 अप्रैल को रात 8 बजे अमरीका ने 10 हजार किलो के वजन वाले बम को अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत के अचिन जिले की सुरंग पर गिराया। इस सुरंग के अंदर खुंखार आतंकी संगठन आईएस के 36 लड़ाके मारे गए।

कहा तो यह जा रहा है कि अमरीका  ने उत्तर कोरिया के तानाशाह शासक को सख्त संदेश देने के लिए इतना बड़ा बम गिराया। लेकिन बम गिराने के पीछे अमरीका का मकसद पाकिस्तान को भी संदेश देना है। अचिन जिले के जिस स्थान पर बम गिराया, वह अफगानिस्तान और पाकिस्तान की सीमा पर है। अमरीका का मानना है कि आईएस के आतंकी ऐसी सुरंगों के माध्यम से ही अफगानिस्तान और पाकिस्तान में मजे करते हैं। आईएस का दम निकालने के लिए जब अफगानिस्तान पर इतना बड़ा बम गिराया जा सकता है तो फिर पाकिस्तान पर भी ऐसी कार्यवाही हो सकती है।


भारत के कश्मीर में जो हालात बिगड़े हैं, उसके पीछे भी पाकिस्तान का हाथ है। पाकिस्तान स्वयं भी आईएस के आतंक से पीडि़त है। अमरीका ने पाकिस्तान के शासकों को भी संकेत दिया है कि अब पाकिस्तान में रह रहे आतंकियों के खिलाफ भी कार्यवाही हो सकती है।

ट्रंप का सख्त रुख…

10 हजार किलोग्राम वजन का बम गिराकर अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपना सख्त रूख जाहिर कर दिया है। इस बम के बाद परमाणु बम का ही नंबर आता है। इसीलिए मीडिया में कहा जा रहा है कि यह गैर परमाणु बम है। यानि अफगानिस्तान पर गिरे बम की तुलना परमाणु बम से की जा रही है। इसे अंतर्राष्ट्रीय आतंक का एक संयोग ही कहा जाएगा कि जहां सीरिया में आईएस के आतंकियों को मारने के लिए रूस रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल कर रहा है, वहीं अफगानिस्तान में अमरीका 10 हजार किलो का बम गिरा रहा है। देखना है कि बमों की वर्षा के बाद भी सीरिया, अफगानिस्तान आदि में शांति हो पाती है या नही?

हमारे कश्मीर में अलगाववादी सुरक्षा बलों पर पत्थर फेकने की हिम्मत रखते हैं। तो क्या भारत को कुछ ऐसी ही कार्यवाई पड़ोस के उस देश के खिलाफ नही करनी चाहिए जो दशकों से हमारी अपनी भूमि पर अलगाववादियों को पैदा करता चला आ रहा है?

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।