दोपहिया वाहनों की भीषण चेकिंग में पुरुष त्रस्त महिलाएं मस्त, ट्रैफ़िक सीओ नें चलाया चेकिंग अभियान

चेकिंग
Traffic CO Mr. Nayak talking to media during vehicle checking...
Share this news...

पाण्डेयपुर चौराहे पर वाहन चेकिंग में कई दर्जन वाहनों की कटी पर्ची, महिलाएं नही बनी चेकिंग अभियान का शिकार…

MD Asif
मो० आसिफ़ (वाराणासी संवाददाता)

 

 

 

 

 

वाराणसी: कैंट थाना क्षेत्र के अंतर्गत पांडेपुर चौराहे पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश अनुसार ट्रैफिक सीओ राम नायक ने चेकिंग अभियान चलाया। जिसका कवरेज़ करने पहुँचे मीडिया के सामने ही लगभग 2 दर्जन लोगो का चालान काटा जा चुका था। सभी चालान दो पहिया वाहनों का काटा गया है।

ट्रैफिक सीओ के मुताबिक चालान उन लोगो के काटा गया, जिनके पास लाइसेंस, गाड़ी कागज़ या फिर हैलमेट नही था। साथ ही उनका यह भी कहना था की हमारा चेकिंग अभियान चलाने का मुख्य उद्देश्य यह है कि समाज के लोगो को जागरूक कर सके।

महिला चालकों को बख्शा

लेकिन इस चेकिंग अभियान के दौरान किसी भी महिला दोपहिया चालक को नही रोका गया। सवाल उठना लाज़मी है कि क्या महिलाएं समाज का हिस्सा नही है? क्या महिलाओ को वाहन चलाते वक्त जान का खतरा नहीं होता है? क्या महिलाओ के लिए कोई ट्रैफिक नियम नही बना है? क्या महिलाओ को जागरूक करने की ज़रूरत नहीं है? आज इन सभी सवालो का जवाब देने मे ट्रैफिक सीओ राकेश नायक विफल रहे।

जब उनसे यह पुछा गया की सिर्फ पुरुषों को ही रोका जा रहा है और उनके वाहनों का चालान किया जा रहा है और महिलाओं के वाहनों की चेकिंग नही की जा रही। यहाँ तक की महिलाओं की चेकिग के लिये कोई महिला होमगार्ड या महिला कांस्टेबल तक की तैनाती नही की गयी तो श्री नायक नें भविष्य में महिलाओं के वाहनों की चेकिग भी करनें की बात कही।

सीओ ट्रैफिक ने सफाई देते हुए कहा कि हम इस पर भी विचार कर रहे है। अब हम चेकिंग अभियान मे महिला कांस्टेबल लगाएँगे और हम कल से ही महिला कांस्टेबल भी साथ लेकर चलेंगे ताकि महिलाओ को भी उनको वाहनों के साथ रोका जाए और वाहन कागज, हैलमेट, लाइसेंस ना होने पर उनका भी चालान कर सकें। जिससे महिलाएं भी जागरुक हो सके, और हेलमेट, वाहन कागज, लाइसेंस आदि चीजें अपने साथ लेकर चले क्योकि कानून सबके लिए एक बराबर है।

वही मौजुद कुछ लोगो ने चेकिग के दौरान मौजुद होमगार्डो से नाराजगी जताई। लोगो को आरोप था की होमगार्ड वाहन रोकते ही वाहन की चाबी निकाल लेते है जो पूरी तरह से गलत है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।