स्वास्थ्य

बुलंदशहर डीएम नें दिया निर्देश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत मिलनें वाली राशि से दें मरीजों को सुविधाएं

93

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक की अध्यक्षता की जिलाधिकारी डाॅ० रोशन जैकब नें, अधिकारियों को दिया दिशानिर्देश…

Sunil Raghav

सुनिल राघव

 

 

 

 

 

बुलन्दशहर: आज जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी डाॅ० रोशन जैकब ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत प्राप्त धनराशि का व्यय मरीजों की सुविधाओं में बढोतरी करने के निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि रोगी कल्याण समिति के माध्यम से चिकित्सालयों में मरीजों के बैठने की व्यवस्था, पीने के पानी की व्यवस्था, स्वच्छता संबंधी उपकरण की व्यवस्था करने में किया जाये। उन्होंने अभी तक किये गये व्यय से कराये गये कार्यो का ब्यौरा प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने आशा एवं आशा संगनी का भुगतान कम पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए प्रभारी चिकित्साधिकारी मालागढ़, कसेरकलां, तौली को प्रतिकूल प्रविष्टि देते हुए भुगतान करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मुख्य चिकित्साधिकारी जनपद स्तर पर एवं विकास खण्ड स्तर पर आशा भुगतान के कैम्प आयोजित करें तथा एसीएमओ को विकास खण्डवार जिम्मेदारी सौंपी जाये।

जिलाधिकारी डाॅ० रोशन जैकब ने निर्देश दिये कि 1 अप्रैल 2018 तक सभी पीएचसी, सीएचसी की उपस्थिति बाॅयो मैट्रिक के माध्यम से किया जाना सुनिश्चित किया जायें तथा जनपद स्तर पर सीएमओ इसकी प्रभावी माॅनिटरिंग करें।

उन्होंने कहा कि दवाईयों की उपलब्धता दर्शाने हेतु तैयार किय गये साफ्टवेयर के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाये कि 25 प्रतिशत स्टाॅक रहते हुए औषधियों के क्रय के आदेश कर दिये जायें जिससे समय पर दवाईयों की उपलब्धता हो सके। जनपद स्तर पर सीएमओ आॅनलाइन सिस्टम एवं साफ्टवेयर के माध्यम से औषधियों की उपलब्धता पर निगरानी रखें।

उन्होंने कहा कि जिला महिला चिकित्सालय में अनावश्यक रूप से उपस्थित आशाओं पर कार्रवाई की जायें। मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका ऐसी आशाओं की सूची उपलब्ध करायें जो बिना किसी कारण के एवं दलाली के कार्यो से अस्पताल में भ्रमण करती है तथा प्रसुताओं को गुमराह करती है।

स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने एमसीटीएस फीडिंग के कार्य में प्रगति न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि फीडिंग हेतु अतिरिक्त कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिलाया जाये तथा डाटा फीडिंग के कार्य में सुधार लायें। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि एएनएम द्वारा सभी छूटे हुए बच्चों का टीकाकरण कार्य में शत प्रतिशत वृद्धि की जायें।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती जसजीत कौर, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ० के०एन० तिवारी सहित सीएचसी/पीएचसी के अधीक्षक/प्रभारी चिकित्साधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारीगण उपस्थित रहे।