सरकारी योजनाओं से अछूता ग्राम सभा जंगल रामनगर, डी एम ने दिया कार्यवाही का भरोसा

Janmanchnews
Janmanchnews.com
Share this news...
Meenakshi Mishra
मीनाक्षी मिश्रा

अमेठी। वैसे तो योगी सरकार ने अनेकों कठोर कदम उठाते हुए तंत्र को स्पष्ट व भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिये अथक प्रयास किये। ग्रामप्रधानों के भी विचौलियेपन को खत्म करते हुए आनेको योजनाओं का लाभ सीधा जनता के खाते में देने का प्रयास किया। किन्तु आज भी विडम्बना यह है कि विकास के नाम पर आने वाला मद केवल प्रतिनिधियों की जेब तक ही सीमित रह जा रहा है।

बात करें ग्रामीण क्षेत्रों की तो ज्यादातर गांव सफाई कर्मी के नाम पर खानापूर्ति कर रहे हैं। सफाईकर्मी ग्रामप्रधान की चाकरी करते नजर आ रहे हैं। और आमजन को पता ही नही उनके क्षेत्र में नियुक्त सफाई कर्मी कौन है।

बात करते हैं ग्रामसभा जंगल रामनगर की तो यहाँ पर नियुक्त सफाई कर्मी ने आजतक दर्शन नही दिये। वही ग्रामप्रधान महोदय से अनेकों बार कहने पर भी उनके कानों पर जूं नही रेंगी। यही हाल क्षेत्र मच्छर मारने वाली दवा के छिड़काव का है। अनेको बार इस मामले के बाबत ग्राम प्रधान को कहने पर उनका कहना था इसका बजट हमारे पास उपलब्ध नही है। वहीं बात करें सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण योजना खुले में सौंच मुक्त भारत की तो उसमें भी ग्राम प्रधान महोदय ने पूर्णतौर पर सर्वे नही कराया व अपने चहेतों को ही शौचालय आवंटित किये।

वहीं जिलाधिकारी महोदय से कई बार दवा के छिड़काव के लिये व सफाई कर्मी के बाबत आग्रह करने पर उनका कहना था कि जल्दी ही डीपीआरओ को इसके बाबत आदेशित किया जायेगा। व दवा के छिड़काव के साथ साथ सफाई कर्मी को भी निर्देशित किया जायेगा। देखना बाकी है कि जिलाधिकारी महोदय के आदेशानुसार किस हद तक निचला क्रम तत्परता दिखाता है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।