bridegroom hostage

बाईक की मांग को लेकर शादी में मचा बवाल, 20 घण्टों तक बँधक बना रहा दूल्हा

13
Shabab Khan

शबाब ख़ान

भदोही: शादी वाला दिन हर दूल्हे के जिन्दगी मे एक खास दिन होता है। घर से दुल्हन के घर पहुँचनें तक उसे एक राजकुमार की तरह मान-सम्मान, प्यार-दुलार से नवाजा जाता है।

पहले बहनों की फिर सालियों की प्यार भरी छेड़छाड़ दूल्हा ताउम्र याद रखता है। लेकिन यहॉं कुछ और ही हुआ। राजकुमार बनकर आया दूल्हा ससुराल में बकरे की तरह रस्सी से बॉंध दिया गया।

दरअसल भदोही जिले के औराई विकास खंड के एक गांव में शनिवार की रात बारात आई हुई थी। डीजे की धुन पर सब नाच रहे थे। लड़की वाले बारातियों के स्वागत में लगे थे। हर तरफ खुशियों भरा माहौल था। दूल्हे के चेहरे पर भी शादी की खुशी साफ झलक रही थी। यार-दोस्तों के बीच सजे-धजे दूल्हे को गुमान भी न था कि आने वाले समय को वो वाकई एक बुरे सपने की तरह जीवन में कभी भुला नही पाएगा।

बहरहाल, बारातियों के स्वागत के बाद शादी का दौर शुरू हुआ। तभी वर और कन्या पक्ष के बीच अचानक विवाद शुरू हो गया। वर पक्ष के लोगों का कहना था कि उन्होंने लावा परछाई में बाइक मांगी जबकि कन्या पक्ष के लोगों ने बताया कि शादी के ठीक पहले दहेज की डिमांड की गई। पहले कहा गया था कि हमें सिर्फ कन्या चाहिए, बाकी राज़ी-खुशी यदि आप लोग जो भी देगें वह अपनी बेटी को देगें, हमें दजेह के रूप में कुछ भी नही चाहिए।

एक बाईक को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि घराती पक्ष के लोगों ने दूल्हे को बंधक बना लिया। उसे एक कुर्सी पर बैठाकर रस्सी से बॉध दिया गया। मामले को निपटाने के लिए रविवार देर शाम तक पंचायत चली। दोनों पक्ष एक दूसरे पर आरोप लगाते रहे। पूरा माहौल तनावपूर्ण हो गया। इस बवाल से दुल्हन भी तनाव में आ गई और शादी से इंकार कर दिया।

करीब 20 घंटे के बाद दोनों पक्षों में समझौता हुआ और लड़की वालों ने दूल्हे को छोड़ा। पुलिस ने मामले में अनभिज्ञता जताई है। जौनपुर के थाना सिकरारा के गुलजार गंज बाजार से आई थी।

Shabab@janmanchnews.com