Shravasti suicide case

पति के गम में कमरे के अंदर फांसी लगाकर की जीवनलीला समाप्त

24
Mithiliesh Pathak

मिथिलेश पाठक

श्रावस्ती। इकौना थाना क्षेत्र के कंजड़वा गांव में एक विवाहिता ने पति के गम में कमरे के अंदर फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला ही समाप्त कर ली। आत्महत्या का मुख्य कारण पति की मौत होना बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर परिजनों को सौंप दिया।

इकौना थाना क्षेत्र के कंजड़वा गांव निवासी 26 वर्षीय कुंदन कुमार अपने दो बच्चियां और पत्नी माँ के साथ रहता था। प्रतिदिन की तरह कुंदन इकौना से बहराईच जा कर एक कंपनी में नौकरी करता था। 3 माह पहले हँसी खुशी कुंदन अपने बच्चो को ये बोलकर निकला कि मै शाम को वापस आऊंगा, कुंदन के घर से निकलने के बाद गिलौला के पास सड़क हादसा हो गया जिसमें कुंदन की मौत हो गई।

पति की मौत सुन कर पत्नी बदहवास होकर गिर गई पति की मौत के बाद पत्नी रेखा के गम के साये में जीने लगी। रेखा मानसिक रुप से परेशान भी रहने लगी।

पत्नी रेखा अपने दो बच्चों के साथ गत दिवस वह बच्चो को खाना पीना खिला कर अपने कमरे में चली गई। रात 11 बजे बच्चो की दादी रेखा के कमरे में गई तो देखा कि रेखा ने कमरे के अंदर दुपट्टे से पंखे से फांसी पर लटक रही थी। बच्चों की दादी ने आनन फानन में अपने पड़ोसियों को बुलाया और फांसी के फंदे पर लटकी रेखा की लाश नीचे उतरवाई।

इसकी सूचना इकौना थाने की पुलिस को दी गई। रात में पुलिस मौके पर पहुँची और जांच पड़ताल कर वापस चली गई सुबह पुनः पहुंची पुलिस ने कर शव का पंचनामा भर परिजनों को सौंप दिया।

परिजनों ने शव को मायके वालों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार कर दिया। मृतिका के 2 मासूम बच्चों के सर से माँ बाप का साया हमेशा के लिए हट गया है।