फिल्म डॉली की डोली का असली वर्जन, अपनी पत्नी का भाई बनकर कराता था शादी, तीन गिरफ्तार

Police arrested con
Janmanchnews.com
Share this news...
Shabab Khan
शबाब ख़ान

मेरठ: यदि आपने सोनम कपूर अभिनीत फिल्म ‘डॉली की डोली’ देखी है तो टाइटिल से ही आपको माजरा समझ आ गया होगा कि हमारा इशारा किस तरफ है।

नही देखी तो हम बता देते हैं कि फिल्म में डॉली बनी सोनम कपूर का एक पूरा का पूरा गैंग होता है जिसमें कोई डॉली का मां-बाप, तो कोई भाई-बहन, यहां तक की कोई दादी बना होता है। सब के सब नकली, कारण किसी रईस लड़के से डॉली की शादी करवाकर उसे ठगने का होता है।

शादी सचमुच की होती है लेकिन शादी के बाद बाकी कुछ भी होने से पहले यानि शादी की पहली रात को ही डॉली अपने नये-नये ससुराल का माल लेकर अपने पूरे नकली ससुराल के साथ चंपत हो जाती है।

ऐसा ही एक गैंग मेरठ जिले में पुलिस के हत्थे चढ़ा है, इस असली कहानी वाली डॉली शादीशुदा है और उसका पति ही उसका रिश्ता किसी मालदार बकरे से पैसे लेकर करवाता था।

पुलिस के अनुसार उसने शिकायत मिलने पर मुखबिरों और सर्विलांस के जरिए एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो शादी कराने के नाम पर लोगों से पैसे एेंठता था। आरोपी युवक भाई बनकर अपनी पत्नी की शादी किसी दूसरे व्यक्ति से पैसे लेकर कराता था। ससुराल पहुंचकर दुल्हन बनी उसकी पत्नी जेवर-नकदी लेकर चंपत हो जाती थी। पुलिस ने आरोपी पति समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि पत्नी और एक अन्य महिला फरार हैं।

कई लोगों को बना चुके हैं अपना शिकार…

एएसपी सुकीर्ति माधव ने बताया, एक शिकायत मिली थी, जिसके आधार पर जांच की गई। उन्होंने बताया कि जिले के डाबका गांव के रहने वाले सुरेश ने इस संबंध में शिकायत की थी।

हापुड़ जिले के रहने वाले आरोपी रोहित अपनी पत्नी स्वाति उर्फ श्वेता के साथ मिलकर शादी कराने के नाम पर लोगों को धोखा दे रहे थे। रोहित अपनी पत्नी को कुंवारी लड़की के रूप में शादी करने वाले इच्छुक युवकों को दिखाता था और उनसे पैसे लेता था।

शादी की बात करते समय वो अपने आपको श्वेता का भाई बताता था और शादी के दौरान भाई बनकर वह दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद देता था। पुलिस के मुताबिक, शादी के नाम पर ठगी का कई मामला सामने आ चुका है। इनमें 1 अप्रैल 2017 को श्वेता की शादी पिंकी शर्मा नाम से मुजफ्फरनगर के निजामपुर के रहने वाले धर्मेंद्र के साथ की गई थी। शादी के नाम पर उससे एक लाख रुपए लिए थे। 19 अप्रैल 2017 को इस गैंग ने ज्योति के नाम से पलवल हरियाणा के रहने वाले शौकीन से शादी कराई और उससे 8 लाख रुपए वसूले।

मैरिज ब्यूरो के जरिए फंसाते थे कस्टमर…

एएसपी ने बताया, एक मैरिज ब्यूरो के माध्यम से ये लोग अपने शिकार को फंसाते थे। शादी के दो-तीन दिन बाद फेरा कराने के नाम पर रोहित अपनी पत्नी को वापस ले आता था और दोनों अपना नया शिकार ढूंढने में लग जाते थे।

इस दौरान श्वेता ससुराल से जेवर और नकदी साथ लेकर आती थी। लड़के वाले सोचते थे कि वो मायके जा रही है, लेकिन जब दो-तीन दिन बाद वो उसे लेने पहुंचते तो दोनों गायब मिलते थे।

उन्होंने बताया, पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। श्वेता और अन्य एक महिला की गिरफ्तारी के लिए कोशि‍श की जा रही है।

Shabab@janmanchnews.com

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।