लाश

नदी में मिली युवती की लाश, बहती लाश को बाहर निकालने के लिये पुलिस नें कड़ी मशक्कत

46

सरयु की तेज़ धार में युवती की लाश बह रही थी, पुलिस नदी के किनारे-किनारे लाश के साथ दौड़ लगा रहे थी…

Mithiliesh Pathak

मिथिलेश पाठक

 

 

 

 

 

श्रावस्ती: सरयू नहर में एक अज्ञात लाश दिखाई दी, घण्टों की कड़ी मशक्कत के बाद शव को निकाला गया, जिसकी शिनाख्त कर शव को पोस्टमोर्टम को भेज दिया गया है।

थाना इकौना इलाके के अमारेभरिया के पास बह रही सरयू नहर में ग्रामीणों ने सुबह एक लाश झाड़ियों में फंसी देखी। देखते ही देखते नहर के पास सैकड़ों की संख्या में लोग जमा हो गए और मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

मामले की सूचना पाकर श्रावस्ती चौकी प्रभारी किसलय मिश्रा अपनी टीम के साथ पहुंचे और हाथों में बॉस की लग्गी लेकर मैदान में जूता उतारकर नंगे पैर उतर पड़े। पानी के तेज बहाव के चलते झाड़ियों से निकल कर लाश बह चली और लाश के पीछे पीछे चली पुलिस और भारी संख्या में लोग। आगे चलकर कभी पुल पर तो कभी ठोकर पर बहती लाश को रोकने का प्रयास लगभग 5 से 6 बार किया गया, पंरन्तु सफलता नही मिली। इसी बीच इंद्र देव भगवान ने भी अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया और तेज़ बारिश होने लगी इसके बावजूद SI किसलय मिश्रा ने हार नही मानी और लगातार प्रयास करते रहे, इस बीच लाश लगभग 5 किमी आगे तक चली आई और नहर की कच्ची पटरियों के सहारे कभी पैदल तो कभी बाइक पर हाथों में डंडा लिए पुलिस ने लाश को चुनौती के रूप में लिया।

आखिरकार बलरामपुर की सीमा प्रारम्भ होने से पहले जोरडीह के पास शव को निकालने में पुलिस को सफलता मिल ही गयी। इस बीच तमाम तरह की बाधाएं भी आई, लेकिन हार न मानने का परिणाम सार्थक रहा।

निकला हुआ शव महिला का था, अब उसकी शिनाख्त का प्रयास शुरू किया गया तो कुछ ही देर बाद शव की शिनाख्त मौके पर पहुंचे पिता और भाई ने पूजा निवासी मैनिहवा मदारा के रूप में हुई।

थाना क्षेत्र इकौना की ही पूजा 2 दिन पूर्व जब शौंच के लिए घर से निकली थी तभी से वह गायब थी, परिजन उसकी तलाश कर रहे थे, इसी बीच सूचना मिली कि नहर से लाश मिली है, जिस पर पहुंचे परिजनों ने उसकी पहचान अपनी पुत्री के रूप में की। शिनाख्त हो जाने के बाद पुलिस ने शव का पंचनामा कर शव को पोस्टमॉर्टेम को भेज दिया है।