BREAKING NEWS
Search
Janmanchnews

ढाई सौ कार्यकर्ताओं ने छोड़ी पार्टी, पार्टी पर हिटलरशाही का लगाया आरोप

567
जुल्फेकार की कलम से।
उत्तराखंड राज्य के विधानसभा चुनाव में ऋषिकेश सीट पर टिकट की दावेदारी को लेकर सुलग रही चिंगारी आखिरकार धधक ही गई। शनिवार को पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्षों और प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य समेत करीब ढाई सौ कार्यकर्ताओं ने प्राथमिक सदस्यता को त्याग दिया। इनमें से दर्जनभर पदाधिकारियों ने अपना इस्तीफा खूंन से लिखकर प्रदेश अध्यक्ष को भेजा है।

शनिवार को श्यामपुर में भाजपा के असंतुष्ट धड़े से जुड़े कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। चर्चा के बाद 248 कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ने का निर्णय लिया। साथ ही दर्जनभर पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष के नाम खून से सामूहिक त्यागपत्र लिखा। उनका कहना है कि पार्टी को उन्होंने अपने खून पसीने और मेहनत से एक मुकाम तक पहुंचाया। मगर अब कार्यकर्ताओं का मान सम्मान भी नहीं बचा है।www.janmanchnews.com

सामूहिक त्यागपत्र में उन्होंने पार्टी पर हिटलरशाही का आरोप तक लगाया है। कहा कि जिसके कारण ही वह भारी मन से पार्टी छोड़ रहे हैं। निर्दलीय मैदान में उतरे पूर्व दर्जाधारी संदीप गुप्ता और पूर्व जिलाध्यक्ष ज्योति सजवाण ने बताया कि हस्ताक्षरित इस्तीफों की कापी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट को भेज दी गई है।

खून से लिखा इस्तीफा
सामूहिक त्यागपत्र देने वाले 248 भाजपाईयों में पूर्व दर्जाधारी और पूर्व जिलाध्यक्ष ज्योति सजवाण, गोविंद अग्रवाल, संदीप गुप्ता, किशन सिंह नेगी, भाग सिंह, ब्रजमोहन कंडवाल, गंभीर सिंह राणा, मनोज जखमोला आदि ने खूंन से अपना इस्तीफा लिखा।janmanchnews.com

जबकि किसान मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष भोला सिंह रावत, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य जयदत्त शर्मा, जिपंस लक्ष्मी सजवाण, सत्यवीर तोमर, थम्मन सैनी, सुनील कुटलैहड़िया, सुभाष वाल्मीकि, दिनेश पयाल, देवानंद बड़ोनी, शूरवीर पंवार, धनवीर जेठूड़ी, राजेश राईटर, हरीश उप्रेती, पवन पांडे, अजय साहू, भोलादत्त जोशी, लक्ष्मी चैहान, सुशीला रावत, कांति नौटियाल, पिंकी जैन, मोना कंडवाल आदि शामिल हैं।