BREAKING NEWS
Search
janmanchnews.com

पर्चा के पेंच में फंसा है महादलित परिवार

580

108 भूमिहीन महादलित परिवारों को नही दखल-कब्जा।

शाहनवाज की रिपोर्ट

खगड़िया जिले के परबत्ता प्रखंड के रामपुर उर्फ रहीमपुर पंचायत अंतर्गत सिराजपुर महादलित टोला के 108 भूमिहीन महादलित परिवारों को 1976 ई. के आसपास खेती के लिए जमीन का पर्चा मिला था।

दखल-कब्जा को लेकर महादलितों का आंदोलन

तबसे गंगा नदी में न जाने कितना पानी बह चुका है, लेकिन इन महादलित परिवारों को अब तक उक्त जमीन पर कब्जा नहीं मिला है। बताते चलें कि कुल 108 एकड़ जमीन का पर्चा दिया गया था। इधर, पर्चा की जमीन पर दखल-कब्जा को लेकर महादलितों का आंदोलन जारी है।janmanchnews/bapu

अब देखना है कि इन्हें कब अपनी जमीन पर दखल-कब्जा मिलता है? पर्चाधारियों के अनुसार, 1976 ई. के आसपास खेती करने के लिए भू-हथबंदी से फाजिल गैरमजरूआ जमीन का पर्चा उन्हें दिया गया था।www.janmanchnews.com

जो जमीन अगुवानी घाट के निकट तेमथा पटपर मौजा में है। पर्चाधारियों की माने तो उसी समय से वे जमीन की मालगुजारी रसीद भी दे रहे हैं। परंतु, उक्त जमीन पर उनका दखल-कब्जा नहीं है।

दखल-कब्जा को लेकर इन महादलितों का निरंतर शांतिपूर्ण संघर्ष जारी है। विजय दास, विष्णुदेव दास, अंबिका दास, कालो दास, शिव दास, अर्जुन दास, भरत दास, सुभाष दास, राधा देवी, फूलमाला देवी आदि ने बताया कि, जब तक जमीन पर दखल-कब्जा नहीं मिलेगा तब तक आंदोलन जारी रखेंगे।

शिवशंकर गुप्ता, सीओ।