BREAKING NEWS
Search

स्लीप एप्निया से रहे सावधान

429

कीर्ति माला,

लाइफ-स्टाइल। बढती उम्र के साथ अनेक तरह की बीमारियों से लोग ग्रसित हो जाते है। उन्ही बिमारियों में से एक है स्लीप एप्निया । जो 40 से 57 साल तक के लोगों को ज्यादा परेशान करती है।इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के अध्यक्ष डां.के.के.अग्रवाल के अनुसार स्लीप एप्निया एक सामान्य समस्या है। जिसकी वजह से सोते समय सांस लेने में साँस रूक जाती है या बेहद कम साँस आती है।janmanchnews.com
एक अध्ययन के अनुसार स्लीप एप्निया से जुडे खर्राटे से मौत का खतरा बढ जाता है। एक सिडनी मे हुए शोध के मुताबिक स्लीप एप्निया से मौत का खतरा छह गुना ज्यादा बढ जाता है। janmanchnews.com
आईएमए ने कहा है कि जिन लोगों को स्लुप एप्निया  है या होने की आशंका है ,उन्हे डाक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। विस्किन्सिन यूनिवर्सिटी की एक अन्य शोध में बात सामने आई है कि गंभीर स्लीप एप्निया से मौत का खतरा तीन गुना ज्यादा होता है।