BREAKING NEWS
Search
Bihar Coronavirus

बिहार में कोरोना का बढ़ता कहर, 24 घंटे में दो डॉक्टरों सहित 10 की मौत, तेजी से बढ़ता जा रहा आंकड़ा

431

Patna: बिहार में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा। सोमवार को भी एक हजार से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। वहीं इस बीमारी से मंगलवार की सुबह पटना एम्स अस्पताल में व‍िगत कई द‍िनों से जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे कोरोना संक्रमित वर‍िष्‍ठ ईएनटी सर्जन डॉक्टर एनके स‍िह की मौत हो गई। इस तरह से पिछले 12 घंटे में कोरोना से दो डॉक्टरों की मौत हो गई है। वहीं बिहार में पिछले 24 घंटे में गया के एक चिकित्सक व भोजपुर के एक अधिवक्ता समेत 10 लोगों की मौत हो गई है।

ईनएनटी सर्जन से पहले गया के डॉक्टर अश्विनी कुमार की मौत कोरोना संक्रमण की वजह से हो गई थी। बिहार में इस तरह अबतक दो डॉक्टरों की जान कोविड-19 के संक्रमण की वजह से हो गई है। गया के डॉक्टर अश्विनी कुमार की रविवार रात पटना के एम्स में कोरोना वायरस की वजह से मौत हो गई थी और आज डॉक्टर एनके सिंह की मौत हो गई है।

दो डॉक्टरों की कोरोना से मौत के बाद बिहार के डॉक्टरों में हड़कंप मचा है। बता दें कि बिहार में अब तक 30 से ज्यादा डॉक्टर कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, लेकिन मौत की ये दो दुखद घटनाएं सामने आई हैं। एनके सिंह पीएमसीएच के ईएनटी व‍िभाग में एसोसिएट प्रोफेसर थे। दो जुलाई को उनकी र‍िपोर्ट पॉज‍िट‍िव आई थी। पीएमसीएच में उनकी हालत ब‍िगड़ने पर पांच जुलाई को एम्‍स में भर्ती कराया गया। वहां उन्‍हें वें‍ट‍िलेटर पर रखा गया  था।

बता दें कि चार द‍िन पूूूूर्व उनकी प्‍लाज्‍मा थेरेपी भी की गई थी। स्‍वजनों ने खुद प्‍लाज्‍मा डोनर का इंतजाम क‍िया था। प्लाजमा थेरेपी के बाद भी उनकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ। मंगलवार तड़के उनकी मौत हो गई। एम्‍स के कोरोना नोडल अधिकारी डॉक्टर संजीव कुमार ने बताया उनकी हालत लगातार गंभीर बनी हुई थी। हरसंभव प्रयास करने के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका। वहीं एनएमसीएच में भर्ती एक चिकित्सक की हालत में सुधार हो रहा है ।

डीएम ऑफिस भी चपेट में, सीएम व राजभवन के सुरक्षाकर्मी भी संक्रमित

पटना में कोरोना संक्रमण की रोकथाम की कमान संभाल रहे ज‍िलाध‍िकारी कुमार रवि के गोपनीय कार्यालय तक कोरोना ने दस्‍तक दे दी है। हालांकि, अभी एंटीजन रैपिड क‍िट से 14 की र‍िपोर्ट पॉज‍िट‍िव आई  है। 70 कर्मियों और सुरक्षाकर्मियों ने टेस्‍ट कराया था।  संक्रमित कर्मियों में से अधिकांश में कोरोना वायरस के  लक्षण नहीं हैं। उनकी आरटीपीसीआर व‍ि ध‍ि से दोबारा जांच कराई जाएगी। वहीं विभिन्न बैरकों से लिए गए सैंपल में से 37 से अधिक जवान की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें से तैनात जवान मुख्यमंत्री व राजभवन सिक्यूरिटी में तैनात हैं।   माना जा रहा है कि डीएम आफिस में भी इन्ही जवानों से संक्रमण पहुंचा है।