BREAKING NEWS
Search

बिना ऑपरेशन के खुशबू ने कैसे किया कंसीव – डॉ चंचल शर्मा

174

Life Style: शादी के बाद खुशबू का वैवाहिक जीवन बहुत ही अच्छी तरह से चल रहा था। परंतु खुशबू इस बात से पूरी तरह से अंजान थी। कि उसको इनफर्टिलिटी (निःसंतानता) जैसी भी कोई दिक्कत है। जब खुशबू ने शादी के एक साल के बाद प्रेगनेंसी प्लान करने की योजना बनाई और कंसीव करने के लिए प्रयास किया। तो वह असफल रही। ऐसा खुशबू ने करीब 1 वर्ष तक किया लेकिन खुशबू के गर्भ में अभी तक बच्चा नही ठहरा।

जब खुशबू को इस बात का अहसास हुआ । कि उसे कोई न कोई दिक्कत है। जिसकी वजह से उसे माँ बनने में परेशानी आ रही है। तो खुशबू ने डॉक्टरों को दिखाना शुरु किया। तब पता चला कि AMH लेवल बहुत कम है। जिसके कारण वह नेचुरल तरीके से गर्भवती नही हो सकती है।

खुशबू को अब चिंता सताने लगी और परेशान रहने लगी। क्योंकि खुशबू और उसका परिवार चाहता था । कि खुशबू नेचुरुल तरीके से माँ बने। ऐसे में खुशबू के पति को आशा आयुर्वेदा के आयुर्वेदिक और नेचुरुल ट्रीटमेंट के बारे में पता चला । खुशबु और उसके पति ने रजौरी गार्डन दिल्ली स्थिति आशा आयुर्वेदा फर्टिलिटी सेंटर जाने का निर्णय लिया।

अब खुशबू और उसके पति ऐसी जगह पर आ चुके थे। जिसकी उन्हें तलाश थी और यहीं पर उनकी तलाश पूरी हुई। डॉ चंचल शर्मा द्वारा दी गई आयुर्वेदिक दवाओं से खुशबू को प्रेगनेंसी हो गई और माँ बनने की खुशियों में खुशबू अपना पुराना सारा दर्द भूलकर एक नये मेहमान की तैयारी में खुद को लगा दिया।
कहानी के अंश आशा आयुर्वेदा की फर्टिलिटी एक्सपर्ट डॉ चंचल शर्मा से प्रेस वार्ता के दौरान प्राप्त हुई है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *