BREAKING NEWS
Search
Srinagar terrorist encounter 30 january

श्रीनगर मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, LeT कमांडर Yousuf Kantur के शामिल होने की भी आशंका

274
Share this news...

New Delhi: मध्य कश्मीर के जिला श्रीनगर के होकारसर इलाके में करीब 16 घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने मकान में छिपे तीनों आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। आइजी कश्मीर विजय कुमार ने तीनों आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि की है। मंगलवार रात से जारी इस मुठभेड़ में मारे जाने वाले तीन आतंकवादियों में लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर युसूफ कांतुर के शामिल होने की भी बात कही जा रही है। यह भी बताया जा रहा है कि जिला बडगाम में काफी सालों से सक्रिय युसूफ गत मंगलवार को होकारसर में युवाओं को आतंकी संगठन में शामिल करने के लिए आया था। हालांकि पुलिस ने इस संबंध में अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की है। उनका कहना है कि तीनों आतंकवादियों की अभी पहचान नहीं हो पाई है।

मुठभेड़ स्थल से तीनों आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं जबकि काफी मात्रा में हथियार व गोलाबारूद भी बरामद हुआ है। पुलिस का कहना है कि मुठभेड़ के दौरान दो से तीन बार आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया परंतु उन्होंने इससे इंकार कर दिया। मुठभेड़ में बाधा डालने के लिए कुछ राष्ट्रविरोधी तत्वों ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया परंतु इन सभी बाधाओं को आसानी से पार करते हुए सुरक्षाबलों ने तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया। सुरक्षाबलों ने अभी भी इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ है।

वहीं सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन पूरा होने तक अभी भी इलाके की घेराबंदी कर रखी है। होकारसर में यह मुठभेड़ गत मंगलवार शाम से जारी थी। अंधेरा हो जाने की वजह से सुरक्षाबलों ने इसे निलंबित कर दिया था। सुबह होते ही सुरक्षाबलों ने एक बार फिर आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा परंतु जब वे नहीं माने तो सुरक्षाबलों ने जवाबी गोलीबारी में एक आतंकी को सुबह ही ढेर कर दिया था। उसके बाद 11 बजे तक बाकी बचे दोनों आतंकियों को भी मार गिराया गया। ये आतंकवादी हाईवे से सटे एक मकान में छिपे हुए थे।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गत मंगलवार शाम को उन्हें सूत्रों से यह पता चला कि श्रीनगर के बाहरी इलाके होकारसर में एक से दो आतंकवादी मौजूद हैं। सूचना के आधार पर एसओजी, सेना की 2 आरआर और सीआरपीएफ के जवानों का संयुक्त दल इलाके में पहुंच गया और उन्होंने तलाशी अभियान शुरू कर दिया। जिस घर में आतंकवादियों के छिपे होने की आशंका थी, जैसे ही जवान उसके नजदीक पहुंचे, आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी।

सैन्य अधिकारियों ने आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा परंतु वह नहीं माने और गोलीबारी जारी रखी। इस बीच सुरक्षाबलों ने मकान को चारों ओर से घेर लिया ताकि आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार न हो जाएं। घेराबंदी मजबूत होने पर सुरक्षाबलों ने जानबूझकर अभियान को धीमा कर दिया ताकि दूसरे लोगों को इसके कारण कोई नुकसान न पहुंचे। हालांकि रातभर दोनों ओर से रूक-रूककर गोलीबारी होती रही।

सुबह एक बार फिर आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया गया। जब इस बार भी उन्होंने नहीं माना तो जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने सुबह 11 बजे तक तीनों आतंकियों को मार गिराया गया। इस बीच जारी मुठभेड़ की वजह से श्रीनगर-बारामूला राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही को बंद कर दिया गया था। श्रीनगर से बारामूला, सोपोर, गुलमर्ग की ओर से आने-जाने वाले वाहनों को मगाम-बडगाम से श्रीनगर की ओर मोड़ दिया गया। सैन्य अधिकारियों का कहना है कि सर्च ऑपरेशन पूरा होते ही हाईवे पर वाहनों की आवाजाही फिर शुरू कर दी जाएगी।

Share this news...