Road Accident

सड़क दुर्घटना में 6 महीने के अंदर एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत

185
Santosh Raj

संतोष राज

समस्तीपुर। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को ट्रक की ठोकर से एक युवक और दो बच्ची की मौत हो गई थी। उसके बाद आक्रोशित लोगों के द्वारा पुलिस के वाहनों को जलाए जाने और ओपी कार्यालय तथा पीएचसी में तोड़फोड़ किए जाने की घटना में एसपी ने सख्त कार्रवाई की है।

इस मामले में प्रथम दृष्टया दोषी पाते हुए थानाध्यक्ष पवन कुमार यादव एवं एक पुलिस कर्मी राम कुमार सिहं को निलंबित कर दिया है। वहीं शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर इंस्पेक्टर चतुर्वेदी सुधीर कुमार के नेतृत्व में काफी संख्या में पुलिस के जवानों को वहां पर तैनात कर दिया गया है।

मंगलवार की घटना को लेकर तीन प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। अंचलाधिकारी राम दत्त पासवान के बयान पर दर्ज प्राथमिकी में राजौड़ रामभद्रपुर के मुखिया अशोक कुमार सिहं, पूर्व मुखिया वीरेन्द्र प्रसाद बिरजु सहित 73 लोगों को नामजद और 500 अज्ञात को आरोपित किया गया है। प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इस मामले में अब तक 18 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दोनों मुखिया पर सरकारी कार्य में बाधा डालने एवं अपद्रवियों को उकसा कर तोड़फोड़ एवं हंगामा कराने की बात कही गई है। इसमें से 18 लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार दुबे ने यह जानकारी दी। बताया गया है कि गिट्टी लदे ट्रक में शराब की बोतलें भी पायी गई है।

Samastipur Road Accident

Janmanchnews.com

इसको लेकर अज्ञात ट्रक चालक के विरुद्ध अवर निरीक्षक श्रीराम दूबे के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें ट्रक संख्या बीआर 01 जीजी 9793 के चालक पर शराब ढोने की बात कही गई है। तीसरी प्राथमिकी चौकीदार दिनेश मंडल के बयान पर दर्ज कराई गई है, जिसमें ट्रक से कुचलकर तीन के मौत होने की बात कही गई है।

बताते चलें की 6 महीने के अंदर उस परिवार में सड़क दुर्घटना में अब तक 6 लोगों की मौत हो गई है। हरिनंदन कुमार, निशा कुमारी और नीतू कुमारी का शव गांव में पहुंचते ही मातम छा गया। दोनों बहनों की एक साथ अर्थी उठी। हरिनंदन कुमार को उसका मंझला भाई हरिचंदर कुमार, निशा कुमारी एवं नीतू कुमारी को उसके चचेरे भाई रौशन कुमार ने मुखाग्नि दी।

गंगाराही गांव के लोग गम में डूब गए हैं। मृतक की माता अमेरिका देवी, पिता शिव नारायण मंडल एवं बड़ी बहन आशा कुमारी का रो-रोकर बुरा हाल था। बड़ी बहन के अनुसार पिछले 8 फरवरी को बोल बम के क्रम में घोरमारा देवघर में उसके चाचा, चाची एवं दादी की मृत्यु ट्रक की ठोकर से एक साथ हो गई थी।

वहीं उसके भाई एवं दो बहनों की मौत हो गई। हरिनंदन के पिता राम नारायण मंडल एवं मंजूूला दवी का भी रो- रोकर बुरा हाल है। तीनों मृतक के परिवार वालों को चार-चार लाख रुपए की मुआवजा राशि का चेक सरकार की ओर से दिया गया है।