Army attack

सुरक्षा बलों पर हमले का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट में, कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

340

नई दिल्ली। एक बड़ी खबर सामने आई है। जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमले का मामला सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है। ख़बरों के मुताबिक अब सुप्रीम कोर्ट यह विचार करेगी की ड्यूटी पर तैनात सुरक्षा बलों के मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए कोई नीति बनाई जाए या नहीं।

इसी संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जावाब मांगा है। दरअसल, दो सैन्य अधिकारियों की बेटियों ने सुप्रीम कोर्ट में  सुरक्षा बलों के मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए कोई नीति बनाने की मांग की है। कोर्ट ने केंद्र सरकार, रक्षा मंत्रालय, जम्मू एवं कश्मीर और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

आपको बताते चले कि दोनों बच्चों ने भीड़ और पत्थरबाज़ों द्वारा सुरक्षाबल कर्मियों के मानवाधिकारों की रक्षा के लिए एक नीति बनाने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है।

इसके आलावा अब पुलवामा हमले का मामला भी सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है। याचिका में पुलवामा और उरी हमलों की सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज की अगुवाई में जांच आयोग के गठन की मांग की गई है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दखल देने से इनकार कर दिया है।