BREAKING NEWS
Search
पकौड़े

पूर्व विधायक ने पकौड़ा बनाने का दिया प्रशिक्षण, पीएम के पकौड़ा वाले बायन पर हुआ प्रदर्शन

462
Share this news...

बीएचयू गेट के सामने आप और कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

Tabish Ahmed

ताबिश अहमद

 

 

 

 

 

वाराणसी: पिछले दिनों ज़ी न्यूज़ पर साल के अपने पहले इंटरव्यु में एंकर सुधीर चौधरी द्वारा प्रधानमंत्री मोदी से यह पूछे जाने पर कि उनके 2014 में देश के नौजवानों को 2 करोड़ नौकरियां दिये जानें वाले वादे का क्या हुआ पीएम नें ज़ी टीवी के स्टूडियो के बाहर बेचे जाने वाले ‘पकौड़ों’ का उदाहरण देते हुये कहा था कि “अाप के स्टूडियो के बाहर जो व्यक्ति पकौड़े तलकर बेच रहा है वो भी रोज शाम को 200₹ लेकर घर जाता होगा, क्या वो रोजगार नही है।” देश के प्रधानमंत्री द्वारा यह बयान प्रसारित होते ही, नौजवानों में यह जानकर आक्रोश उत्पन्न हो गया कि आपने वादो और दावों की सत्यता का जवाब देने के बजाये पीएम उच्च शिक्षा प्राप्त नौजवानों को सड़क किनारे पकौड़े बेचकर आजीविका चलाने की सलाह दे रहे है।

पीएम के उपरोक्त बयान पर ट्विटर पर उनकी बहुत बड़े लेविल पर खिचाई शुरु हो गयी थी। यहाँ तक की कई बीजेपी नेता भी पीएम स्तर पर नौजवानों से कही गई इस बात पर लाजवाब नजर आये।

वही दूसरी तरफ विपक्षी पार्टियों को तो जैसे बिन मांगी मुराद मिल गयी। राहुल गांधी, हार्दिक पटेल, जिग्नेश, अखिलेश यादव, आजम खान, केजरीवाल, मायावती के अलावा भाजपा नेता शत्रुघन सिन्हा, यशवंत सिन्हा भी पीएम मोदी के पकौड़ा वाले स्टेटमेंट पर हमलावर हो गये। उसी कड़ी मे आज काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सिंह द्वार के सामने आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई के कार्यकर्ताओं ने पकौड़े बेचकर बेचकर प्रधानमंत्री के बयान पर विरोध दर्ज कराया।

प्रधानमंत्री पर युवाओं को रोजगार न दे पाने का आरोप लगाते हुए छात्र नेता अर्पित गिरी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने दो करोड़ नौकरियां देने का वादा किया पर पिछले तीन वर्षों में दो करोड़ लोगों को बेरोजगार कर दिया।

ईष्टदेव पांडेय ने कहा कि पीएम मोदी विरोध के स्वर नही सुनना चाहते। छात्रों ने मांग किया कि कानपुर में गिरफ्तार छात्रों को रिहा कर उन पर लगे सभी प्रकार के फर्जी मुकदमों को वापस लेने की मांग की। मिर्जापुर में कांग्रेसजनों ने कलेक्ट्रेट परिसर में पकौड़े बेचकर विरोध प्रदर्शन किया।इस दौरान कांग्रेसजनों ने अपनी डिग्रियों की फोटो कापियों पर पकौड़े बेचकर विरोध जताया। पूर्व मड़िहान विधायक ललितेश पति त्रिपाठी ने युवाओं को पकौड़ी बनाने का प्रशिक्षण भी दिया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार गारंटी योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद भी बेरोजगार हैं। वहीं प्रधानमंत्री द्वारा रोजगार देने की बजाए हतोत्साहित करने वाला बयान दिया जा रहा है।

Share this news...