F-16

बुरा फंसा पाकिस्तान, ‘F-16’ को लेकर अमेरिका जूटा रहा सबूत

228

वाशिंगटन। अमेरिका ने कहा है कि वह 27 फरवरी को भारत के खिलाफ हमले के लिए प्रयोग में लाये गये ‘F-16’ विमान मसले को गंभीरता से लिया है और वह इसके इस्तेमाल को लकर पुख्ता सबूत जुटा रहा है।

इस मुद्दे को लेकर दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय और सामरिक संबंधों में संकट और गहरा सकता है। अमेरिका इस विमान को लेकर हुए समझौते के उल्लंघन पर बेहद गंभीर है और पाकिस्तान एफ-16 के मसले में ‘स्वयं के जाल’ में फंसता जा रहा है।

वह लगातार इस बात से इंकार करता रहा है कि उसने भारत के खिलाफ इस विमान का इस्तेमाल किया है। पश्चिम देशों की एक महत्पूर्ण समाचार एजेंसी ने पाकिस्तान स्थित अमेरिकी दूतावास के प्रवक्ता के हवाले से यह खबर दी है।

प्रवक्ता ने कहा कि हमने रक्षा समझौते के उल्लंघन को गंभीरता से लिया है और हम पाकिस्तान द्वारा भारत के खिलाफ इसके उपयोग को लेकर पुख्ता सबूत जुटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें इसके उपयोग के बारे में जो रिपोर्टें मिली हैं, उनसे हम अच्छी तरह बाकिफ हैं।

इस संबंध में हम और साक्ष्य और सूचनाएं एकत्र कर रहे हैं। इधर, दिल्ली में सत्तारुढ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सूत्रों ने कहा है कि भारत सरकार ने इस विमान के उपयोग के संबंध में जो साक्ष्य पेश किये गये हैं उसी के अनुरुप चीजें आगे बढ़ रहीं हैं।

इस मसले पर बारीक नजर रखी जा रही है। ज्ञात हो कि पाकिस्तानी वायुसेना ने कुछ दिन पहले भारत में घुसपैठ की थी, जिसके बाद भारतीय वायुसेना के जांबाज पायलट अभिनंदन ने मिग-21 से F-16 को मार गिरया था।