BREAKING NEWS
Search

आखिर चढ़ गया घूसखोर दरोगा एंटी करप्शन टीम के हत्थे

733
Share this news...

सिगरा थानें की सोनिया चौकी पर तैनात था एसआई महेश सिंह, वादी से उसके मामले की विवेचना के लिये मांग रहा था 5 हजार की रिश्वत…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

वाराणसी: उत्तर प्रदेश पुलिस को अपनी घूसखोरी के कारनामे से बदनाम करने वाले एक दरोगा महेश सिंह को आज वाराणसी में एंटी करप्शन टीम ने एक शिकायत पर कार्यवाही करते हुये गिरफ़्तार कर लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सिगरा थाना के सोनिया चौकी इंचार्ज को पुलिस चौकी पर घूस के पांच हज़ार रुपये लेते हुये रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। एंटी करप्शन टीम द्वारा दरोगा महेश सिंह को हिरासत में लेकर कैंट थाने पर मुकदमा पंजीकृत करवाते हुये पूछताछ की जा रही है।

थाना कोतवाली क्षेत्र के जालपा देवी निवासी राजकुमार गुप्ता ने खुद के साथ हुये एक आपराधिक कृत्य के सम्बन्ध में सीआरपीसी की धारा 156(3) के तहत सिगरा थानें में मु०अ०सं० 652/2018 अंतर्गत आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468, 120(B) 504, 506 पंजीकृत करवाया था। इस मामले की विवेचना सोनिया चौकी इंचार्ज एसआई महेश सिंह के द्वारा किया जा रहा था। इसी क्रम में पीड़ित ने आरोप लगाया है कि विवेचक दरोगा महेश सिंह द्वारा विवेचना के सम्बन्ध में वादी मुकदमा से घूस मांगी जा रही थी। वादी ने तंग आकर लिखित शिकायत एंटी करप्शन अनुभाग को दिया गया था। जिसमे कार्रवाई के तहत एंटी करप्शन विभाग द्वारा आज घूसखोरी के आरोप में दरोगा महेश सिंह को सोनिया पुलिस चौकी से रंगे हाथो घूस लेते हुये हिरासत में ले लिया गया।

इस कार्यवाही के बाद घूसखोर दरोगा के खिलाफ थाना कैंट में मुकदमा पंजीकृत करवाकर थाना कैंट पर पूछताछ की जा रही थी।

ज्ञातव्य हो कि गिरफ्तार दरोगा इसके पूर्व वाराणसी के आदमपुर थाना क्षेत्र के हनुमान फाटक पुलिस चौकी पर तैनात था। वहां तैनाती के दौरान भी वह अपनी घूसखोरी के कारण बदनाम था और अक्सर विवादो में रहता था।

बता दें कि पिछले एक महीनें में रिश्वनखोरी का यह दूसरा मामला है जिसका खुलासा हुआ है। इससे पहले लोहता थानें का एक दरोगा शमशेर आलम खान भी गैंग रेप की पीड़िता से उसके मुकदमें की विवेचना के संबंध में घूस की डिमांड करता रहता था। परेशान होकर पीड़िता के परिजनों नें दरोगा का घूस लेते हुये वीडियो बना लिया था और वाराणसी मीडिया में लीक कर दिया। दरोगा का रिश्वत लेते हुये वीडियो जैसे ही टेलीकास्ट हुआ उसके एक घंटे के अंदर ही वाराणसी एसएसपी आंनद कुलकर्णी नें शमशेर आलम को निलंबित कर दिया था।

Share this news...