BREAKING NEWS
Search
महेंद्र

अजगरा विधायक की भांजी अपराजिता सोनकर उतरीं महेन्द्र नाथ पांडेय के ‘चोर’ कमेंट से हुये डैमेज को कंट्रोल करने

521

बीजेपी का दलित वोटों के लिए डैमेज कंट्रोल, भांजी को उतारा मामा के खिलाफ़, लेकिन क्या‌ महेंद्र नाथ पांडेय का कैलाश नाथ सोनकर को ‘चोर’ कहा जाना भूल पाएंगा दलित समाज…?

–संतोष अग्रहरी

वाराणसी: लोकसभा चुनाव में अभी समय है लेकिन प्रधानमंत्री मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के चलते काशी राजनीतिक उठा-पटक का अखाड़ा बन गया है। इसी कड़ी में आज वाराणसी के सर्किट हाउस में जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता सोनकर ने प्रेस वार्ता में मीडिया से मुखातिब होते हुए बताया की बीजेपी के हम सभी कार्यकर्ता इसलिए उपस्थित हुए क्योंकि बीजेपी समर्थित सुभासपा पार्टी के अजगरा विधायक कैलाश नाथ सोनकर जो हमारे मामा है उन्होंने हमारे प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय के उपर गलत आरोप लगाया है।

हमारी पार्टी को दलित विरोधी पार्टी बोला  गया है। प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय को दलित विरोधी बोला गया है। इस बात को मैं सरासर नकारती हूं, क्योकिं हमारी भारतीय जनता पार्टी दलितों का पुरा समर्थन करती है, और दलितों को हमेशा आगे लाने का काम करती है। दलितों को समान दर्जा दिलाने का काम करती है।

हमारी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हमारे गार्जियन की तरह है महेन्द्र नाथ पांडेय

अपराजिता सोनकर ने कहा की हमारे गार्जियन हमारी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय पर इस तरह का जो आरोप लगाया गया और जो बाते उनके बारे मे कही गई हैं बीजेपी पार्टी की एक कार्यकर्ता होने के नाते मैं स्पष्ट करती हूं कि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय के उपर जो आरोप लगाया गया है, वह सभी बाते गलत है। जो आरोप लगाए गए हैं, सभी आरोप निराधार है।

परिवार की नही जनता की सेवा करने के लिए आई हूं पॉलिटिक्स में

उनका कहना था, कि परिवार और पार्टी को एक साथ नही जोड़ा जा सकता है। पार्टी ने मुझे सम्मान दिया है, और मै पार्टी के लिए लडुंगी। अपराजिता सोनकर नें कहा की ज़िला पंचायत अध्यक्ष बनते ही मैने एक बयान दिया था कि मैं इंजीनियरिंग छोड़ के यदि पॉलिटिक्स में आ रही हूं तो जनता की सेवा करने के लिए आ रही हूं ना कि परिवार की सेवा करने के लिए। मै एक बेटी होने के नाते परिवार की सेवा जरुर करूंगी। लेकिन एक अध्यक्ष होने के नाते मै सिर्फ जनता की सेवा करूंगी। साथ ही उन्होंने अपने पिता का बचाओ करते हुए, यह भी कहा की अगर कोई भी राजनेता हो उसके उपर हर तरह के आरोप प्रत्यारोप लगेंगे। और अगर इसमे मेरे पिता का नाम या खुद मेरा नाम आ रहा है, तो उसकी निष्पक्ष जांच होगी। और जो दोषी पाया जाता है। उसके उपर कार्यवाही होगी।