BREAKING NEWS
Search
abhya mahila seva sansthan

भारतीय संस्कृति से जुड़ने से दूर होंगी समस्याएं- डॉ. शारदा

351

अभया महिला सेवा संस्थान ने आयोजित की गोष्ठी….

Priyesh Kumar "Prince"

प्रियेश कुमार “प्रिंस”

आज़मगढ़ (उत्तर प्रदेश)। अभया महिला सेवा संस्थान ने अपना स्थापना दिवस समारोह मनाते हुए हरबंशपुर में पर्यावरण संरक्षण, महिला हिंसा एवं स्वास्थ्य जागरूकता पर परिचर्चा का आयोजन किया। जिसमें डॉ. डी.डी सिंह, डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ. शारदा सिंह, डॉ. शिवी, रूचि अग्रवाल, डॉ. ए के राय, ने अपने विचार व्यक्त किये।

पूर्व प्राचार्य डॉक्टर शारदा सिंह ने कहा कि भारतीय संस्कृति में पर्यावरण संरक्षण रचा बसा है सारी समस्याएं इस संस्कृति से दूर होने के कारण उत्पन्न हो रही हैं।

डॉ. डी डी सिंह ने महिलाओं को सचेत करते हुए कहा कि शारीरिक श्रम करें अन्यथा मशीन के प्रयोग से शरीर में बीमारियों के प्रकोप को रोक नहीं पाएंगे। पूर्वांचल विश्वविद्यालय के शिक्षक डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर ने मोबाइल के प्रयोग के प्रति सचेत करते हुए कहा कि मोबाइल परिवार के बीच संवाद कम कर रहा है जो अपनों में कम्युनिकेशन गैप कर रहा है। प्रतिमा पाण्डेय ने तथा अतिथियों का स्वागत संस्था सचिव अनामिका सिंह पालीवाल ने तथा आभार डॉ सोनी पाण्डेय ने व्यक्त किया।

इस अवसर पर संस्था की सदस्यों ने ट्विंकल हत्या कांड पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मौन रखा। इस अवसर पर पूनम श्रीवास्तव, मंजू श्रीवास्तव, अर्चना तिवारी, अनीता सिंह, एकता, तमन्ना, ज्योति, कंचन यादव, वन्दना शाह, कंचन, पुजा खुशबु, बबिता, ज्योति, गीता, चाँदनी पुष्पा, अर्पिता, रमाकांत, श्वेता, सुषमा दीपशिखा प्रियंका सोनी प्रियंका यादव मेघना इत्यादि उपस्थित रहीं।