BREAKING NEWS
Search

बनारस में शुक्रवार को बवाल के बाद बंद इंटरनेट रविवार को हुआ बहाल

454

शुक्रवार को बनारस के बजरडीहा में नमाज के बाद अचानक शुरू हुये विरोध-प्रदर्शन को रोकने के लिये पुलिस लाठीचार्ज में मची भगदड़ में एक मासूम कुचल गया था…

वाराणसी: शुक्रवार से बनारस में ठप इंटरनेट रविवार की सुबह 10 बजे से बहाल होना शुरू हो गया। जिलाधिकारी के आदेश पर सुबह करीब दस बजे तक बीएसएनएल की सेवाएं बहाल हो गयी, अन्‍य प्राइवेट आपरेटरों की सेवाएं भी इसके बाद एक एक कर बहाल होती चली गईं। सुबह साढ़े दस बजे तक सभी निजी आपरेटरों की भी इंटरनेट सेवाएं चालू कर दी गईं। वहीं दूसरी ओर इंटरनेट की सेवाओं की बहाली के बावजूद सोशल मीडिया पर जिला प्रशासन पूरी तरह से नजर बनाए रखेगा ताकि दुरुपयोग होने की स्थिति में आवश्‍यक कार्रवाई की जा सके। वहीं पुलिस प्रशासन की ओर से विशेष सतर्कता भी बरती जा रहा है। लोगों से भी प्रशासन ने अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए अपील की है।

बता दें कि शुक्रवार को नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी के वाराणसी में हुए हिंसक प्रदर्शन में 8 साल के मासूम की मौत हो गई थी। शुक्रवार को कानून के विरोध में जुमे की नमाज के बाद वाराणसी के बजरडीहा इलाके में प्रदर्शनकारियों के पथराव के चलते भगदड़ मच गई थी जिसमें दबकर 8 साल का मोहम्मद समीर बुरी तरह घायल हो गया था। शुक्रवार देर रात बीएचयू ट्रामा सेंटर में उसकी मौत हो गई। प्रदर्शनकारियों के पथराव में नौ पुलिसकर्मियों के साथ 14 अन्य लोग घायल हो गए थे। पुलिस ने इसको लेकर दशाश्वमेध थाने में आठ नामजद और 200 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कराया है।

नदेसर क्षेत्र में हुए प्रदर्शन को लेकर कैंट पुलिस ने 200 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज कराया है। वाराणसी में अब तक हुई हिंसा पर पुलिस ने 28 नामजद और 2900 अज्ञात लोगों पर तीन मुकदमे दर्ज किए हैं। शुक्रवार को बजरडीहा में धारा 144 के लागू होने के बाद भी प्रदर्शन के लिए अमादा लोगों ने जमकर बवाल किया था। इस भगदड़ में घायल मोहम्मद समीर (8) की देर रात में मौत हो गई।

तेरह लोग अब भी अस्पताल में भर्ती हैं। तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। शुक्रवार को हिंसक प्रदर्शन के बाद शनिवार को पूरे दिन शहर में स्थिति तनावपूर्ण है। जिला प्रशासन ने एहतियातन मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद करवा दी है। बजरडीहा सहित कई इलाकों में अतिरिक्त पुलिस फोर्स की तैनाती के साथ एक कंपनी पीएसी तैनात कर रूट मार्च जारी है। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने कहा कि पांच आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई होगी। फोटो और वीडियो की मदद से आरोपियों को चिह्नित किया जा रहा है। शहर का माहौल बिगाड़ने का प्रयास करने वाला कोई बख्शा नहीं जाएगा।