बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव अखिलेश कटियार ने जदयू को छोड़ा

75

भोपाल। एक बड़ी खबर सामने आ रही है। आगामी चुनाव से पहले ही एनडीए को बड़ा झटका लगा है। जदयू के महासचिव अखिलेश कटियार ने जदयू से रिजाइन कर दिया है। CM नीतीश कुमार के करीबी व पार्टी के महासचिव अखिलेश कटियार पार्टी के द्वारा दिए कार्यभार को करने में असहज महसूस कर रहे थे।

जनमंच सूत्रों के अनुसार जदयू महासचिव इन दिनों NDA में अपने आप को सहज महसूस नहीं कर रहे थे। पिछले साल हुए जदयू की NDA के गठबंधन के बाद से ही अखिलेश कटियार व नीतीश कुमार के बीच आंतरिक मनमुटाव वजह बताई जा रही है। 

letter

janmanchnews.com

अपने त्याग पत्र में उन्होंने साफ साफ लिखा है कि वर्तमान राजनीतिक हालात में वो अपने आप को सहज महसूस नहीं कर रहे है। इसको लेकर यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि जदयू की हुई NDA से गठबंधन को आगामी चुनाव के लिए वो सही नहीं मान रहे है। 

आपको बता दे, अखिलेश कटियार जितने CM नीतीश कुमार के करीब है, वो उतना ही हार्दिक पटेल के भी उतने करीब है। ऐसा माना जा रहा अखिलेश कटियार अपने आप को पार्टी के अन्दर  राजनीती रूप से सहज महसूस नहीं कर रहे थे। आपको बता दे, बीते कुछ दिनों नीतीश कुमार व हार्दिक पटेल के रास्ते अलग अलग हो गये है, जिसको लेकर भी अखिलेश कटियार की नाराज़गी है। 

खैर अब देखना है की अपने त्याग पत्र देने के बाद श्री अखिलेश कटियार की आगे की रानीति क्या होगी। जिसपर सबकी नज़र तीज होगी। फिलहाल MP चुनाव में सभी दल अपने पूरी ताकत लगाती हुई नज़र आ रही है। 15 सालों से सत्ता से रहे दूर कांग्रेस भी अपनी पूरी तैयारी में लगी है।

जनता दल यूनाइटेड के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के जाने के बाद जदयू के कई दिग्गज नेता व अधिकारी पार्टी छोड़ चुके हैं। अब अचानक से अखिलेश कटियार द्वारा जदयू को छोड़ना कहीं न कहीं ये साबित करती है कि जदयू के नेता व कार्यकर्ता अपने ही पार्टी से नाराज़ है।