BREAKING NEWS
Search
Shivraj Government

आज रात 12 बजे से बढ़ेंगी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, म.प्र.मे लागू होगा सेस

419
Jalaj Tripathi

जलज त्रिपाठी

भोपाल। मध्य प्रदेश में पेट्रोल-डीजल पर सोमवार से अतिरिक्त कर (सेस) लागू हो जाएगा। रविवार रात 12 बजे से ही ईंधन की कीमत में एक प्रतिशत की वृद्धि हो जाएगी। राज्य सरकार ने पेट्रोल-डीजल के रिटेल सेल प्राइज पर सोमवार से सेस लगाने की अधिसूचना जारी कर दी है।

इस लिहाज से 28 दिसंबर की रात 12 बजे से पेट्रोल कंपनियां जो भी दाम निर्धारित करेंगी प्रदेश में उस पर एक प्रतिशत अतिरिक्त सेस लगेगा। पहली बार ऐसा हो रहा है कि वैट व अतिरिक्त कर के माध्यम से उपभोक्ता से ट्रांसपोर्ट इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड के नाम पर सेस लिया जाएगा।

शनिवार को देर शाम जारी नोटिफिकेश मे कहा गया है कि 29 जनवरी से सेस लागू हो जाएगा। 28 दिसंबर की रात 12 बजे से पेट्रोल कंपनियां पेट्रोल-डीजल के दाम निर्धारित करेंगी, उस पर प्रदेश सरकार एक फीसदी अतिरिक्त सेस जोड़ेगी। इस लिहाज से पेट्रोल-डीजल के दाम में भी एक प्रतिशत की वृद्धि होना तय है।

सेस लगाने के बाद अब तक भोपाल में पेट्रोल 77.73 रुपए प्रति लीटर है, लेकिन 1 प्रतिशत सेस लगाने पर कीमत 78.50 रुपए हो जाएगी। मतलब 77 पैसे कीमत बढ़ेगी। वहीं डीजल 66.67 रुपए प्रति लीटर है, लेकिन 1 प्रतिशत सेस लगाने पर कीमत 67.33 रुपए हो जाएगी। मतलब 66 पैसे बढेंगे।

गौरतलब है कि अक्टूबर माह में केंद्र के निर्देश और चारों तरफ से पड़ रहे दबाव के बाद मध्यप्रदेश सरकार ने पेट्रोल-डीजल से वैल्यू एडेड टैक्स (वैट) कम किया था। तीन प्रतिशत वैट घटाने के बाद पेट्रोल लगभग 1 रुपए 32 पैसे सस्ता हुआ था वहीं पांच प्रतिशत वैट और डेढ़ रुपए प्रति लीटर अधिभार घटाने से डीजल लगभग 3 रुपए 94 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ था। वैट घटाने से मप्र सरकार को हर साल 2 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा था।

इसकी भरपाई करने के लिए ही सरकार द्वारा सेस लगाए जाने का निर्णय लिया गया है। कैबिनेट फैसले के बाद अब सरकार द्वारा मोटर स्पीड अध्यादेश 2018 के तहत डीजल पर 50-50 पैसे सेस लगाया जाएगा। सेस से जमा पैसे का उपयोग सड़कों और मेट्रो रेल परियोजना के विकास के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। इससे सरकार को सालाना 300 करोड़ मिलेंगे।

वहीं 13 अक्टूबर 2017 को सरकार ने पेट्रोल से 3 प्रतिशत और डीजल से 5 प्रतिशत वैट घटाया गया था। डीजल से डेढ़ रुपए सरचार्ज भी खत्म किया था। इसके बावजूद पेट्रोल पर 28 फीसदी और डीजल पर 22 फीसदी वैट है। 15 जून 2017 से डेली प्राइज मैकेनिज्म (डीपीएम) लागू होने के कारण पेट्रोल-डीजल के दामों में रोज बदलाव हो रहे है।