Love

जबरदस्त एक्शन, ड्रामा: प्रेमी के घर की छत से कूद जान देने पर उतारू प्रेमिका

228
Pankaj Pandey

पंकज पाण्डेय

बांका। याद है न! धर्मेंद्र का फ़िल्म  ‘शोले’ में पानी टंकी पर चढ़कर चिल्लाना। “कूद जाऊँगा, फांद जाऊँगा, अगर बसन्ती से शादी के लिए मौसी तैयार नहीं होगी।” कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला बांका जिले में। कुछ अंतर के साथ।

इस बार बीरू नहीं बसन्ती तैयार थी कूदने-फांदने और जान देने के लिए। गांव वालों की जमघट भी वैसे ही लगी थी। मगर उस भीड़ में बसन्ती की तरह वीरू नहीं दिख रहा था। दिखता भी कैसे? वह तो भाग गया गांव-घर छोड़कर।

घटना बिहार के बांका जिले के  शम्भू गंज प्रखंड के गोपाल पुर गांव की है। बीते शुक्रवार को यहां अपने प्रेमी की बेवफ़ाई से नाराज  प्रेमिका प्रेमी के घर जा पहुंची। प्रेमी से शादी कर लेने की जिद की। नहीं मानने पर वह प्रेमी के घर की छत पर चढ़ गई। वहां से चीख-चीखकर प्रेमी से कहने लगी कि मुझसे शादी करो नहीं तो मैं जान दे दूंगी।

इससे भी बात नहीं बनी तो प्रेमिका बिजली के खम्बे के पास पहुंच गई। खम्भे के पास पहुंचकर प्रेमिका ने कहा कि मैं ऊपर चढ़ जाउंगी और बिजली का तार पकड़कर मर जाऊंगी। प्रेमी पहले तो सब देखता-सुनता रहा फिर प्रेमिका की जिद देखकर प्रेमी ने शादी करना तो दूर वह तो उल्टे पैर घर छोड़कर भाग गया। 

प्रेमी सूरज कुमार सुल्तानगंज में लॉज में रहकर पढ़ाई करता था। मुंगेर निवासी प्रेमिका उसी लॉज के पास दूसरे लॉज में रहकर इंटर की पढ़ाई कर रही थी। एक ही कोचिंग संस्थान में साथ-साथ पढ़ने और आस-पास रहने के कारण दोनों में पहले दोस्ती हुई। धीरे-धीरे यह दोस्ती बढ़ते हुए न जाने कब प्यार में बदल गई।

दोनों एक-दूसरे के घर भी आने-जाने लगे। घर वालों को इनके बीच के रिश्तों का पता चला। दोनों ने शादी का फैसला किया। लेकिन दोनों के घरवालों को यह नागवार गुजरी।

इस बीच प्रेमी ने अपना मोबाइल नंबर बदल लिया। उसने लड़की से बात करना छोड़ दिया। इस बात से परेशान प्रेमिका प्रेमी के घर जा पहुंची। प्रेमी से शादी करने की जिद पर अड़ गई। प्रेमी टालमटोल करने लगा तो लड़की घर के सामने ही धरना पर बैठ गई। 

लड़की को घर के सामने धरने पर बैठा और उसे हंगामा करता देख उसका प्रेमी घर छोड़कर भाग गया। लड़का शनिवार दोपहर तक अपने घर नहीं लौटा। थक हारकर लड़की अपने घर वापस लौट गई।