High Court- Janmanch

ठगी और जान से मार देने की शिकायत करते हुए महिला ने न्यायालय में दाखिल की आरोप पत्र

98
Santosh Raj

संतोष राज

समस्तीपुर (दलसिंहसराय)। फाइनेंस कम्पनी खोलकर शिक्षा ऋण देने के नाम  पर लोगों से अवैध रूप से राशि हड़प लेने और मांगने पर जान से मारने की धमकी देनेे का एक मामला संज्ञान में आया है।

इस सम्बंध में दलसिंहसराय न्यायालय में दाखिल अभियोग पत्र संख्या 267/17 0के अनुसार समस्तीपुर शहर के हरिओम कॉम्प्लेक्स आदर्श नगर चौक मोहनपुर रोड में IDFB फाइनेंसियल नाम की एक कम्पनी खोली गई थी। इस कम्पनी के मालिक बिथान थानांतर्गत भटवन गांव के जितेंद्र कुमार यादव थे।

एक दैनिक समाचार पत्र में छपे विज्ञापन के आधार पर दलसिंहसराय थाना के पगड़ा गांव निवासी प्रियंका कुमारी लोन हेतु आवेदन देने और सम्बन्धित जानकारी प्राप्त करने के लिए कार्यालय पहुंची। जहां लिपिक कुंदन कुमार से उसकी मुलाकात हुई।

उनसे मिली जानकारी से वह सन्तुष्ट नहीं हुई। तब वहीं पर बैठे जितेंद्र ने उनसे बात की और सात लाख रुपये देने का आश्वासन देते हुए पांच हजार रुपया आवेदन फाइलिंग के नाम पर पहली बार, दुबारा फिर पांच हजार और बाद में प्रोसेसिंग फी के नाम पर पचास हजार अर्थात कुल पैसठ हजार रुपया लेते हुए दो महीना बाद लोन लेने के लिए आने की बात कही।

इसके बाद जब वह वहां पहुंची तो वह बहानेबाजी करने लगा। बहानेबाजी से क्षुब्ध होकर उन्होंने लोन नहीं लेने और रुपया वापस करने के लिए कहा। जिस पर उसने 27 सितम्बर 12 को पन्द्रह हजार और पन्द्रह हजार तीन सौ अर्थात तीस हजार तीन सौ का का दो चेक दिया जिसे प्रियंका ने दलसिंहसराय शाखा में अपने खाता में जमा कर दिया।

अक्टूबर मे यह चेक बाउंस कहते हुए शाखा ने लौटा दिया। चेक लेकर जब वह कम्पनी के कार्यालय पहुंची तो वहां ताला लटका था। आसपास से पूछने पर पता चला कि कम्पनी अपना बोरिया-बिस्तर बांध जा चुकी है। कई साल बाद जब जितेंद्र जून 17 में दलसिंहसराय के स्टेशन रोड में दिखा तो प्रियंका ने अपने रुपये वापसी के लिए कहा। जिस पर जितेंद्र ने उसे गोली मार देने और खानपुर में कार्यरत उसके शिक्षक पति को राह से उठा लेने की धमकी दी।