BREAKING NEWS
Search
बिहार प्रवासी सम्मेलन

पटना में छठा बिहार उद्यमिता सम्मेलन सह प्रवासी बिहार सम्मेलन संपन्न, उद्यमियों ने निवेश करने का किया वादा

666

पटना। छठा बिहार उद्यमिता सम्मेलन सह बिहार प्रवासी सम्मेलन-2019 के दूसरे दिन पहुंचे प्रवासी बिहारियों ने राज्य के विकास में अपनी-अपनी भागीदारी को लेकर गहन चर्चा की और बताया कि कैसे एक दूसरे को साथ लेकर बिहार को विकास के पथ पर आगे बढ़ाया जाए।

सम्मेलन को बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधारी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सदानंद सिंह, केंद्रयी मंत्री रामकृपाल यादव और अन्य अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर आगे बढ़ाया। देश-विदेश से जुटे उद्यमियों से बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सदानंद सिंह ने कहा कि सीमित संसाधन होने के बावजूद बिहार तेज गति से तरक्की के पथ पर अग्रसर है।

जहां की 73 प्रतिशत भूमि बाढ़ प्रभावित है जो राज्य की विकास में बड़ी बाधा है। इसका स्थाई हल हाई लेवल डैम है जो कि नेपाल में बनाया जा सकता है लेकिन विदेश नीति की वजह से थोड़ी परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि भौगोलिक स्थिति के कारण उत्पन्न हो रहे परेशानियों के बावजूद बिहार न सिर्फ विकास कर रहा है बल्कि विकास दर के मामले में दूसरे राज्यों को भी टक्कर दे रहा है।

यहां की एक और बड़ी समस्या जनसंख्या भी है लेकिन इसी आबादी को ताकत भी बनाया जा सकता है। उन्होंने उद्यमियों से कहा, आप हिम्मत दिखाएं बिहार जरूर चमकेगा। वहीं केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव ने कहा कि बिहार वह धरती है जहां की मिट्टी की महक पूरी दुनिया में है। यहां प्रतिभा की कमी नहीं है सिर्फ उस प्रतिभा को सही दिशा में आगे बढ़ाने की जरूरत है।

उन्होंने बिहार की दसा को लेकर पूर्व में शासन कर रहे केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि 2014 से पहले देश में शासन कर रहे सरकार ने बिहार के साथ भेदभाव किया जिसका खामियाजा बिहार भुगत रहा है। वहीं वर्तमान में नीतीश सरकार की देखरेख में निवेश के लिए अच्छा माहौल बना है।

सड़कों की समस्या को दूर किया गया है, बिजली भी उचित रूप से गांव-गांव तक पहुंचाया गया है और लॉ एंड ऑर्डर पर भी काबू पा लिया गया है। उन्होंने प्रवासियों से कहा कि आप राज्य की तरक्की में भागीदार बनें और खुलकर निवेश करें।

कार्यक्रम में राज्य के उद्यमियों को सम्मानित भी किया गया। जिसमें दूबे किल्निक के डायरेक्टर डॉ. सुनील कुमार दुबे, चंपारण मीट हाउस के संस्थापक राजू रंजन कुमार सिंह और कई अन्य शामिल रहे।

इसतरह से पहली बार संपन्र हुआ बिहार प्रवासी सम्मेलन….देखिए खास रिपोर्ट