BREAKING NEWS
Search
CM Bihar

नीतीश कुमार ने किया एेसा काम जो उन्होंने सात साल पहले नहीं किया था

347
Chandan kumar

चंदन कुमार

पटना। गांधीनगर के अधिकारियों के मुताबिक, बिहार में आई बाढ़ पर गुजरात सरकार ने मदद और राहत कार्यों के लिए 5 करोड़ का चेक दिया है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बार बदले राजनीतिक समीकरणों में पूरी तरह से बदले-बदले नजर आ रहे हैं। इस बार वह कुछ ऐसा करने जा रहे हैं, जो उन्होंने सात साल पहले नहीं किया था।

यह उतनी ही राशि है, जो गुजरात सरकार की ओर से 2010 में उस वक्त भेजी गई थी, जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। 2010 में जब बिहार में बाढ़ आई थी, तब भी गुजरात सरकार ने मदद के लिए 5 करोड़ का चेक भेजा, लेकिन नीतीश कुमार ने इस चेक को वापस लौटा दिया था। 

Read also this-

मनी लॉन्ड्रिंग केस मामले में मीसा की मुश्किलें बढ़ी, जांच की आंच लालू तक भी पहुंच सकती है

अब एक बार फिर बिहार में भीषण बाढ़ आई है। इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को राहत पैकेज के रूप में 500 करोड़ रुपये देने का वादा किया है। मुख्यमंत्री ने इस पर ऐसे वक्त में ऐसे समय में सहमति दी है, जब कुछ रोज पहले ही केंद्रीय मंत्रिमंडल में हुए बड़े फेरबदल में उनकी पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) को शामिल नहीं किया गया।

इस मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल हुए 9 के 9 मंत्री बीजेपी से ही थे। माना जा रहा था कि एक महीने पहले एनडीए के साथ आए नीतीश कुमार की पार्टी को मोदी मंत्रिमंडल में कैबिनेट स्तर के एक या दो पद मिलेंगे। लेकिन जब नीतीश ने यह बताया कि उन्हें कैबिनेट विस्तार की खबर मीडिया से मिली है, तो सभी राजनीतिक जानकार हैरान रह गए।

नीतीश के इस बयान पर उनके पूर्व सहयोगी रहे आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव भी चुटकी लेने से खुद को नहीं रोक पाए। उन्होंने कहा, ‘जेडीयू के कुछ नेताओं ने शपथ समारोह में शामिल होने के लिए नया कुर्ता पाजमा तक सिलवा लिया था, लेकिन उन्हें समारोह में शामिल होने का न्योता तक नहीं मिला।’