BREAKING NEWS
Search
Lalu Prasad Yadav

जदयू अध्यक्ष शरद यादव के तीन दिवसीय दौरे के दौरान नीतीश करवा सकते है हमला: लालू यादव

379
Kirti mala

कीर्ति माला

पटना। महागठबंधन टूटने के बाद जदयू अध्यक्ष शरद यादव नाराज चल रहे हैं। इस नाराजगी को दूर करने गुरूवार को तीन दिन के लिए पटना दौरे पर आ रहे हैं।

इस बाबत राजद प्रमुख लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार ने साजिश किया है। शरद यादव गुरुवार को पटना आ रहे हैं।

मुझे सूचना मिली है कि नीतीश की साजिश है कि पटना एयरपोर्ट से निकलते वक्त कुछ लोगों द्वारा शरद यादव पर चप्पल, पानी के बोतल, डंडा और झंडा (पार्टी का नहीं) फेंके जाएं। नीतीश आप खतरे से खेल रहे हैं।

लालू ने कहा कि जनता दल की स्थापना शरद यादव और देवी लाल ने की थी। शरद जदयू के बड़े नेता हैं। असली जनता दल और जेडीयू के कार्यकर्ता शरद यादव के साथ हैं। शरद यादव के जेडीयू के साथ हमारा गठबंधन बना रहेगा।

नीतीश कुमार हताश और निराश हैं। वे प्रवक्ताओं द्वारा हमलोगों को गाली दिलाते हैं। मैं उन प्रवक्ताओं के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता। नीतीश किस केस की बात करते हैं। उनपर तो 302 का केस दर्ज है। उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। 

नीतीश लालच की बात करते हैं। पॉलिटिकल लालच भ्रष्टाचार से भी ज्यादा खतरनाक है। नीतीश ने सत्ता के लिए चार बार पलटी मारी। नीतीश कुमार ने मेरे साथ गांधी मैदान में गांधी जी की मूर्ति के सामने देश को संघमुक्त करने की कसम खाई थी और अब वे खुद पलटी मारकर भाजपा की गोद में चले गए। 

लालू ने कहा कि महात्मा गांधी ने आज के दिन ही अंग्रेजों के खिलाफ संघर्ष शुरू किया था। आजादी की लड़ाई में कांग्रेस का भी बड़ा रोल था। बीजेपी और आरएसएस के लोग तो तब अंग्रेजों का साथ दे रहे थे। इन लोगों का आजादी की लड़ाई में कोई योगदान नहीं है।

आज देश की हालत वैसी हो गई है, जैसी अंग्रेजों के शासन के समय थी। देश में तानाशाही और हिटलरशाही है। इन्हें अंग्रेजों की तरह उखाड़ फेंकने की जरूरत है। बीजेपी और जेडीयू दोनों सरकारी दल हैं। शरद यादव ने कहा है कि महागठबंधन टूटने से 11 करोड़ लोगों का दिल टूटा है। मैं उसी पर मंथन करने जा रहा हूं।

Info@janmanchnews.com

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।