BREAKING NEWS
Search
Lalu Yadav patna

चारा घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट का आया फैसला, लालू को लगा दोहरा झटका

216

कीर्ति माला,

पटना। राजद प्रमुख लालू प्रसाद का बुरा दौर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अभी लालू-शहाबुद्दीन टेप प्रकरण का मामला थमा भी नही कि चारा घोटाला का फैसला आ गया।

चारा घोटाला में 950 करोड़ रूपए गबन करने का आरोप है। जो 1996 में सामने आया था। चारा घोटाले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। कोर्ट ने आदेश दिया है कि इस मामले में लालू यादव पर अलग-अलग धाराओं में अलग-अलग मुकदमे चलाए जाएं।  कोर्ट के इस आदेश के बाद अब राजद प्रमुख को विशेष सीबीआई कोर्ट से फिर से जमानत लेनी पड़ेगी।

जस्टिस अरुण मिश्रा की पीठ ने सीबीआई को इस मामले में देरी करने व सुप्रीम कोर्ट में अपील बेहद देर से पेश करने पर  कड़ी फटकार लगाई। कोर्ट ने सीबीआई निदेशक को आदेश दिया कि वह इस मामले में देरी करने वालों की जिम्मेदारी तय करें। कोर्ट ने कहा कि यह देरी असहनीय है इससे सीबीआई के मकसद पर ही सवाल खड़े हो रहे हैं।

इस मामले में सीबीआई ने अपने मैनुअल के अनुसार काम नहीं किया जो निंदनीय है। कोर्ट ने झारखंड हाईकोर्ट का आदेश रद्द करते हुए कहा कि सीबीआई पांच महीने में ट्रायल को पूरा करे। बहरहाल झारखंड हाई कोर्ट ने उनके खिलाफ षडयंत्र का चार्ज रद्द कर दिया था। हाई कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि लालू के खिलाफ आईपीसी की धारा 201 और धारा 511 के तहत मामला चलेगा, लेकिन षडयंत्र का चार्ज रद्द कर दिया था सुप्रीम कोर्ट के फैसले में राजद प्रमुख लालू दोषी माने गए है।