BREAKING NEWS
Search
Bihar Private Coaching and Teachers Welfare Association

कोरोना संकट में निजी संस्थानों की मांग, तीन माह के बिजली व किराया हो माफ़, नहीं तो होगा चराणबद्ध आंदोलन

391

पटना। बिहार प्राइवेट कोचिंग एंड टीचर्स वेलफेयर असोसिएशन के कार्य समिति की बैठक राज किशोर चौरसिया की अध्यक्षता में पटना सिटी में संपन्न हुई।

जिसमें मुख्य रूप से #Covid19 से छोटे-छोटे कोचिंग संस्थान के संचालक तथा शिक्षक मुख्य रूप से प्रभावित है। अन्य संस्थानों की तरह अपनी भी जीविका कैसे चलाए जिससे इनकी भुखमरी ख़त्म हो सके इसपर गहन चर्चा हुई। सदस्यों ने मुख्यमंत्री से छोटे कोचिंग संस्थान खुलने क आग्रह किया गया।

संस्था की ओर से शिविर मंडल पूर्व में मुख्यमंत्री को पत्र लिख चुके है तथा सूचना प्रसारण मंत्री बिहार तथा पथ निर्माण मंत्री बिहार सरकार को आग्रह पत्र दे चुके है। अभी तक इस पर कोई विचार ना होने के कारण हजारों निजी शिक्षक व संस्थानों के संचालक आर्थिक तंगी से गुज़र रहे है। सभी सदस्यों ने सरकार से तीन माह के बिजली व किराया माफ़ करने का आग्रह किया तथा शिक्षकों व संचालकों की आर्थिक मदद की गुहार लगाई।

यदि सरकार इन विषयों को गंभीरता से नहीं लेती है तो संघ की ओर से चराणबद्ध तरीकों से आंदोलन किया जायेगा। संचालन मो. यूनुस और आदित्य कुमार ने संयुक्त रूप से किया। बैठक में डी.के संजय, राकेश, अरशद अली, कुंदन कुमार, गौरव, रोहित, गोविन्द, अजय आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।