BREAKING NEWS
Search
missing woman in samastipur

महीनों से इंसाफ के लिए थाना का चक्कर काट रही एक मां, पुलिस कर रही है टालमटोल

619

पंकज पाण्डेय की रिपोर्ट,

समस्तीपुर। “न पहुंच, न पैरवी और न पास में पैसे, कोई मेरी सुने भी तो कैसे?” पिछले तीन महीने से बेटी के हत्यारों की गिरफ्तारी और इंसाफ के लिए थाने का चक्कर काटती बेटी को खो चुकी मां आशा देवी यह कहते हुए फफक-फफककर रो पड़ती है। मामला है जून महीना में रोसड़ा थानांतर्गत ख़ैरा गांव की एक विवाहिता को जलाकर मार देने और घटना के बाद नामजद आरोपियों की अब तक गिरफ्तारी नहीं होने की।

दलसिंहसराय थाना में दर्ज कांड संख्या 186/17 के अनुसार खैरा गांव की आशा देवी ने अपनी बेटी काजल की शादी दलसिंहसराय निवासी शिवजी महतो के पुत्र मोहन महतो से 29 अप्रैल 2016 को की थी। इस शादी में उसने अपने सामर्थ्य के अनुरूप 2 लाख रुपया खर्च भी किया। काजल विवाह के बाद ससुराल आ गई और वहां वह रहने लगी।

missing woman in samastipur

Janmanchnews.com

कुछ माह तो ठीक ठाक रहा, किंतु उसके बाद उसके साथ ससुराल वाले 2 लाख रुपये, सोने की चैन व एक मोटरसाइकिल की मांग कर उसे प्रताड़ित करने लगें। नहीं देने पर उसके साथ मारपीट, गाली-गलौज की जाती थी। विगत 23 जून को दलसिंहसराय में ही रहने वाली काजल की मौसी ने काजल की मां आशा देवी को काजल के साथ कुछ अनहोनी होने की आशंका व्यक्त करते हुए फोन किया।

ये भी पढ़ें…

शिक्षक ने दी ऐसी सजा कि लड़की शर्म से लाल हो गई

फोन पर मिली सूचना पर जब आशा देवी काजल के ससुराल पहुंची तो ससुराल में कोई नहीं था। दरवाजे पर ताला लटका था। पास-पड़ोस के लोगों से पूछताछ करने पर काजल को जलाकर मार देने की बात पता चली। दूसरे दिन वह थाना पहुंचकर मोहन महतो, शिवजी महतो, नीरा देवी और मनोज महतो को आरोपित करते हुए केस दर्ज करवाई।

पुलिस भा द वि के धारा अंतर्गत U/S 304 के अंतर्गत मामले को दर्ज कर सहायक निरीक्षक आर के सिंह को घटना की जांच और आरोपियों को पकड़ने की जिम्मेवारी सौंपी। इसके बाद से वह अब तक पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही की जानकारी हेतु थाना का चक्कर काट रही है।

गिरफ्तारी या अब तक क्या कार्यवाही पुलिस द्वारा की गई है। पूछने पर उसे टका-सा उत्तर दिया जाता है। पुलिस अपना कार्य कर रही है। जो भी होगा, आपको बता दिया जाएगा। पर कब तक? इसका जवाब किसी के पास नहीं है।